You don't have javascript enabled. Please Enabled javascript for better performance.

Be vigilant, save yourself from fiscal fraud

Start Date: 28-11-2020
End Date: 28-01-2021

All of us are quite aware of the fact that India is one of the fastest-growing economies in the world. Despite that, there is a massive economic disparity in the country, which ...

See details Hide details

All of us are quite aware of the fact that India is one of the fastest-growing economies in the world. Despite that, there is a massive economic disparity in the country, which majorly affects the poor and middle class of the society. In recent times a number of scams like Chit Fund and scams of other financial institutions have come to light. Apart from cooperative institutions, nationalized and private sector banks, chit fund companies and non-banking financial institutions, voluntary organizations like trusts, NGOs have also reported financial irregularities against the general public.

This economic disparity has affected Madhya Pradesh like all other states of India. Such financial anomalies is not only adversely affecting the economy but also creating a bad image of the state in the eyes of the investors.

Be it financial crimes, co-operative fraud, Lok Seva Guarantee, or Right to Information; the Police Headquarters in Bhopal, Madhya Pradesh leaves no stones unturned in helping people who have been a victim of any such frauds or crimes. Any individual who has been a victim of such crimes are requested to approach the Headquarters for help.

Apart from the help of the Department, as responsible citizens, it is also our duty to be vigilant and keep ourselves as well as our near and dear ones safe from such fiscal crimes. If you have any thoughts or suggestions on ways, we can keep ourselves safe and secure from such crimes, do not forget to share with us.

For any such financial crimes or scams, contact the Police Headquarters in Bhopal at 0755-2443022

All Comments
Reset
93 Record(s) Found
0

SANJAYYADAV 17 hours 47 min ago

मेरे घर के सामने का आम रास्ता जो मुख्य मार्ग से लगभग 300 मीटर अंदर है जिसकी चौड़ाई लगभग 25 फीट हैं जिसको प्रारम्भ के भू स्वामियों के द्वारा कब्जा कर वर्तमान में शेष 10 फीट का रहने दिया है

400

SUNIL 3 days 14 hours ago

हमारे यहा प्रधानमंत्री आवास नहीं मिल रही ओर नालियों का काम भी नहीं हो रहा साफ़ सफाई भी नहीं होती है कितनी बार शिकायत कर दी गयी है परन्तु कोइ निराकरण नहीं किया गया

400

OM Kar 4 days 13 hours ago

ग्राम पंचायत पहाड़ी निवार जिला कटनी म प्र
में यूरिया 370 औऱ सल्फर 330 की बेची जा रही है किसानों को 10 घण्टे बिजली बहुत कम है

2370

RajneeshKumarKushwaha 1 week 6 days ago

मजदूरों के खाते में पैसा डाल के निकलवा लिया जाता है
लेकिन वे मजदूरी करने नहीं जाते है

2370

RajneeshKumarKushwaha 1 week 6 days ago

हमारे यहां सचिव एवं सरपंच मिल कर मजदूरों के पैसे खा रहे
है

48480

Amit Kumar Tiwari 2 weeks 2 days ago

मैं आपसे अनुरोध व आगामी कार्यवाही हेतु मदद् की अपेक्षा रखता हूॅं, मुझे अधिक धन राशि का संचय करने के लिये श्री राजय वर्मा (टी.टी.ई. खण्डवा) जो कि सेन्ट्रल रेल्वे के कर्मचारी है के द्वारा गल्फ क्वाॅइन गोल्ड @ माॅय गल्फ क्वाॅइन गोल्ड @ सी.बी.एक्स क्वाईन नामक फर्जी कम्पनी में इन्वेंट करवा दिया है, जो कि भारतीय मुद्रा में राशि को ली जाकर विदेशी डाॅलर में सिर्फ साॅफ्टवेअर में ही प्रदर्शीत होती है,

48480

Amit Kumar Tiwari 2 weeks 2 days ago

विशेष यह प्रक्रिया मेरे जैसे सैकड़ों लोगो के साथ की गई है, चूंकि उक्त समस्त लेन-देन की राशि 7000 प्रति आई.डी. से रखी गयी थी तो सभी ने नगद में व्यवहार किया गया, जिसका किसी के पास कोई सबूत न होने से इस पर कोई भी कार्यवाही नहीं की जा रही है, मगर मेरे पास कुछ व्हाॅट्सप मैसेज, कम्पनी के ब्राड एम्बेसेडर, कम्पनी के प्रचारक गे्रड उमेशजी लाखरा द्वारा कम्पनी के बैंक खाते में व कमीशन की राशि स्वयं के खाते राशि स्वयं के खाते राशि हस्तांतरिक कराई गई है का पूर्ण बैंक द्वारा ट्रोंजेक्शन पर भी पुलिस द्वारा

48480

Amit Kumar Tiwari 2 weeks 2 days ago

किस लिए पुंछ रहें हो मामा जी महाकौशल कुछ मिलना नहीं है सब दुसरे के लिए है जैसा मंत्री परिषद में किया है

48480

Amit Kumar Tiwari 2 weeks 2 days ago

आम आदमी का पैसा बैंक में जमा होता है जिस पर बैंक द्वारा कई प्रकार के शुल्क लगाये जाते है और फिर सरकार भी उस पर 18 % का GST लगाकर आम आदमी पर फिर से बोझ डाल देती है | पैसा जमा होने के बजाय शुल्क में ही दम तोड़ देता है और आम आदमी मुह देखते रह जाता है कि मेरा मेहनत का पैसा बैंक और सरकार ने लूट लिया है