You don't have javascript enabled. Please Enabled javascript for better performance.

Inviting citizens to give suggestions on Health and Education for AtmaNirbhar MP

Start Date: 07-08-2020
End Date: 11-08-2020

The world has seen a lot of changes in the economy and in life recently because of COVID 19 pandemic and the lockdown. These changes have marked the importance of developing a ...

See details Hide details

The world has seen a lot of changes in the economy and in life recently because of COVID 19 pandemic and the lockdown. These changes have marked the importance of developing a self-sustaining ecosystem for growth. Proving to be a milestone for developing the state, Chief Minister Shri Shivraj Singh Chouhan is working tirelessly to develop the road map for Atma Nirbhar Madhya Pradesh.

Chief Minister Shri Shivraj Singh Chouhan is inviting the citizens of the state to give their suggestions for developing an impeccable Health and Education policy for the state on the following:

✦ Health
✦ Skill Development and Technical Education
✦ Higher Education
✦ School Education

Share your unique, useful and practical suggestions for developing Health and Education system in Madhya Pradesh and lead the state towards a thriving future. These suggestions will help in developing a strong policy under the guidance of Niti Aayog for Madhya Pradesh.

Submit your suggestion before 10:00 am on 10th August 2020.

All Comments
Reset
106 Record(s) Found
24240

Amit Kumar Tiwari 1 month 2 weeks ago

निर्धन गरीब छात्राओ को विशेष सहायता हेतु सुझाव
क्या उन दिव्यंगो को क्या उन युवाओ को जिनकी पढाई पी जी डिग्री करना करना है एसे उन गरीब छात्र छात्राओ को उनकी पढाई में होने वाला सम्पूर्ण खर्च उनके आने जाने का खर्च उनको उनके प्रतिशत अनुसार जो पूर्व में हाई सेकेंडरी पास कर मिलना चाहिये था और जो आज तक उन छात्र छात्राओ को प्राप्त नही हुआ तीन वर्ष के कार्यकाल में भी एसे छात्र छात्राओ जिनके माता पिता दोनों कि पूर्व में ही आकस्मिक म्रत्यु हो चुकी हो मात्रृ पित्रृ हीन छात्राओ को जो गरीब निर्धन असहाय भी

3060

RAJKUMAR SAHU 1 month 2 weeks ago

ग्रामीण में योजना में सुधार करके मजदूरों को रोजगार दिया जा सकता है
जबकि ग्रामीण में 80 प्रतिशत क्षेत्र आता है जिसमे 60 प्रतिशत मजदूरों की संख्या रहती है यदि उन्हें उन्ही के निवास पर उन्ही की पंचायत पर मध्य प्रदेश शासन की जनकल्याण करी योजनायो का लाभ मौके पर ही दिया जा रहा होता तो मजदूर कभी घर छोड़ कर घर के कुछ सदस्यों को छोड़ कर जो वृद्ध असहाय होते है उनमे कुछ तो विकलांग होते है उन्हें भी छोड़ कर अपने माता पिताओं को छोड़ कर अपनी जन्म भूमि को छोड़ कर अपने स्वयं के परिवार को लेकर अपने प्रदेश को छोड़ क

3060

RAJKUMAR SAHU 1 month 2 weeks ago

निर्धन गरीब छात्राओ को विशेष सहायता हेतु सुझाव
क्या उन दिव्यंगो को क्या उन युवाओ को जिनकी पढाई पी जी डिग्री करना करना है एसे उन गरीब छात्र छात्राओ को उनकी पढाई में होने वाला सम्पूर्ण खर्च उनके आने जाने का खर्च उनको उनके प्रतिशत अनुसार जो पूर्व में हाई सेकेंडरी पास कर मिलना चाहिये था और जो आज तक उन छात्र छात्राओ को प्राप्त नही हुआ तीन वर्ष के कार्यकाल में भी एसे छात्र छात्राओ जिनके माता पिता दोनों कि पूर्व में ही आकस्मिक म्रत्यु हो चुकी हो मात्रृ पित्रृ हीन छात्राओ को जो गरीब निर्धन असहाय भी

660

Brajesh Goswami 1 month 2 weeks ago

माननीय मुख्यमंत्री जी, प्रदेश के सुदूर ग्रामीण क्षेत्रो मे सामान्य पैथोलोजिकल जांचों के लिए मेडिकल लैब टेक्नीशियन को सिग्नेचर ऑथोरिटी दी जाये जिससे मरीज़ों का सही समय पर रोग का निदान हो सके साथ ही प्रदेश के 80 से 85 हजार मेडिकल लैब टेक्नीशियन को स्वरोजगार प्राप्त हो सके जिससे वह आत्मनिर्भर बन पीड़ित मानवता की सेवा कर सके ,चूँकि इसमे सरकार का वित्तीय खर्च शून्य होगा साथ ही प्रदेश के सुदूर ग्रामीण क्षेत्रो मे स्वास्थ सेवाओं का विस्तार होगा

520

SANJAY KUMAR SHARMA 1 month 2 weeks ago

Television व् internet के माध्यम से उच्च आर्हर्ता प्राप्त अधिक अनुभवी शिक्षकों जिनकी शिक्षण शैली उत्तम हो के द्वारा प्रत्येक कक्षा प्रत्येक विषय का रुचिकर तरीके से प्रसारण किया जाये।शिक्षा को अधिक से अधिक प्रायोगिक तौर पर समझाया जाये। इसका अधिक से अधिक प्रचार प्रसार किया जाये।पाठ्यक्रम को सरल, परीक्षा को सरल, करने की अपेक्षा शिक्षण व्यवस्था को उत्तम व् सुदृढ़ किया जाये।

520

SANJAY KUMAR SHARMA 1 month 2 weeks ago

Thanks to respect CM ,श के क्षेत्र में सुधार हेतु अच्छे प्रतिशत लाने वाले प्रति छात्र के हिसाब से उसके शिक्षक को प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाये।शिक्षक म प्र निवासी कोई भी greduate आदमी हो सकता है।सत्र के प्रारंभ में ही छात्र तथा शिक्षक का पंजियन किया जाये।छात्र अपने शिक्षक का चयन स्वयं करे।शिक्षक को मासिक वेतन न देकर वार्षिक प्रोत्साहन राशि छात्र के प्रतिशत के हिसाब से दी जाये।जैसे 95% से ऊपर ₹100000,90℅से ऊपर ₹80000 etc,,शिक्षक अपनी सुविधा अनुसार उचित स्थान व् उचित समय पर शिक्षा प्रदान करें।

420

Kamlesh Rathour 1 month 2 weeks ago

माननीय मुख्यमंत्री एवं स्वास्थ्य मंत्री जी से आग्रह है कि आप पूरे प्रदेश के मैडिकल लैब टेक्नालाजिस्ट को बेसिक लैब चलाने एवं रिपोर्ट को सत्यापित करने का अधिकार दे कर आप आत्मनिर्भर कर सकते हैं इसमें किसी भी तरह की वित्तीय भार नहीं होगा बल्कि सभी लैब का पंजीयन होने से वित्तीय लाभ प्रदेश को होगा और इससे लैब की गुणवत्ता भी बढेगी लोग सरकार के उपर अस्रित नहीं रहेगे और अपना जीवन यापन कर सकेंगे और मैं संगठन की ओर से आग्रह करता हूँ हम सरकार के साथ पूरा सहयोग करेगे और स्वास्थ्य ब्यवस्था को सुद्रण करेंगे।

580

Jitendra Mishra 1 month 2 weeks ago

महोदय आपसे विनम्र निवेदन है कि मध्य प्रदेश के ग्रामीण इलाकों में जिस तरह से लाइफ स्टाइल के बदलाव से कई तरह की बीमारियां जैसे कि थायरॉयड, सुगर, बीपी, एनीमिया फैल रही हैं और गावों में खून की जांच की कोई सुविधा उपलब्ध ना होने के कारण एक छोटी सी बीमारी का सही समय में इलाज ना होने के कारण छोटी सी बीमारी गंभीर बीमारी बन जाती है जो ठीक नहीं हो सकती जिसमें धन समय की भी बरवादी होती है अतः आपसे निवेदन है ही पैथोलॉजी लैब टेक्नीशियन को बेसिक लैब खोलने की परमिशन की करवाई करें जिसमें केवल बेसिक और जरूरी टेस्ट

580

Jitendra Mishra 1 month 2 weeks ago

माननीय मुख्यमत्री शिवराज सिंह चौहान जी पूरे मध्यप्रदेश को आप पर पूरा भरोसा है जिस प्रकार आपने मध्य प्रदेश को बीमारू राज्य से निकाल कर स्वास्थ्य राज्य में ले आए हैं आपका बहुत बहुत धन्यवाद लेकिन आज भी मध्य प्रदेश के सुदूर इलाकों और ग्रामीण इलाकों में स्वास्थ्य सेवाएं सुचारू रूप से नहीं चल पा रही हैं इसमें सरकार की कोई भी गलती नहीं है क्योंकी सहरी इलाकों में सरकारी स्वास्थ्य सेवाएं के आलावा प्रायवेट स्वास्थ्य सेवाएं दे रहे हैं लेकिन प्रायवेट सेक्टर ग्रामीण इलाकों में नहीं जाना चाहता क्योंकी उनको लॉ