You don't have javascript enabled. Please Enabled javascript for better performance.

Suggestions for Hanuwantiya Jal Mahotasav 2017-18

Once an unexplored place, now a destination where India’s largest water carnival is held. ...

See details Hide details

Once an unexplored place, now a destination where India’s largest water carnival is held.

Set up in the lap of Hanuwantiya Island besides the pristine waters of Indira Sagar Dam, the picturesque escapade here complements the joy that lies in the spirit of adventure. Flying above the sparkling waters or speeding through it, India’s one of its kind water festival has an array of land, water and air adventure activities all set on one canvas called Jal Mahotsav. The festival is also a cultural representation of Madhya Pradesh - a culture that represents vibrancy, rich heritage and not to miss out, sumptuous food!

The water festival has now made the culturally rich Madhya Pradesh known for its adventure tourism too. It gives one more reason to the people to tour to Madhya Pradesh. Along with celebrating the spirit of adventure, the festival also celebrates the spirit of MP. The absolute brilliance of the local artisans and craftspeople, melodious folk music and performances and lip smacking cuisine - all these precisely describes and defines what “The Heart of India” truly stands for.

MP Tourism welcomes you to share your opinion, ideas, and suggestions to improve the services, accessibility, addition of events in the upcoming “Hanuwantiya Jal Mahotasav”, which is scheduled to be held from 15 October, 2017 to 2 January, 2018.

For more information on Hanuwantiya Jal Mahotsav click here

Last date of submissions of suggestions is 09th December, 2018

Click here to watch video on Hanuwantiya Water Festival, Madhya Pradesh

Click here to watch video on Hanuwantiya Jal Mahotsav

All Comments
Reset
40 Record(s) Found

badam singh kushwah 1 day 5 hours ago

निश्चित ही हनुवंतिया एक अद्भुत स्थान है व इसे एक पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने की अब भी अपार संभावनाएँ हैं। मेरे अनुभव से मैं कहना चाहूँगा की हनुवंतिया पहुँचने के लिए संसाधनों का अभाव है। यदि इंदौर,खंडवा,बुरहानपुर,ओंकारेश्वर आदि स्थानों से हनुवंतिया पहुँचने हेतु वाहन सुविधा कर रोजगार के रूप में बहा के लोगो द्वारा किया जा सकता है जिससे उनको एक रोजगार मिल सकता है तो हनुवंतिया में पर्यटकों की संख्या में तेज़ी से वृद्धि होगी।

sanjay yadav 4 days 15 min ago

निश्चित ही हनुवंतिया एक अद्भुत स्थान है व इसे एक पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने की अब भी अपार संभावनाएँ हैं। मेरे अनुभव से मैं कहना चाहूँगा की हनुवंतिया पहुँचने के लिए संसाधनों का अभाव है। यदि इंदौर,खंडवा,बुरहानपुर,ओंकारेश्वर आदि स्थानों से हनुवंतिया पहुँचने हेतु वाहन सुविधा सरकार द्वारा उपलब्ध की जाए तो हनुवंतिया में पर्यटकों की संख्या में तेज़ी से वृद्धि होगी।
धन्यवाद

Shivam Dwivedi 1 week 3 days ago

yah pradesh sarkaar ka ek mast aayojan hai, isme Security, aur management Durust karne ki zarurat hai.ho sake to Garebo ko jo chhoti-choti dukan lagate hain unka panjiyan kar Stayi ban diya jay.

Praveen Kumar Tiwari 2 weeks 5 days ago

महोदय जी हमें बहुत सारे पर्यटन मित्र जैसे job create करना चाहिये एवं हर साल बहुत से प्रायवेट कम्पनियां,महाविद्यालय, बैंक संस्थान अपने कर्मियों के लिये आउट डोर प्लान करती है येसे में इन पर्यटन मित्र के माध्यम से इन तक पहुंच बनाना चाहिये एवं विशेष पैकेज प्रदान कर उन्हे आकर्षित करना चाहिये।

ROHAN MORE 2 weeks 5 days ago

मुझे पूर्व में हनुवंतिया जाने का सौभाग्य प्राप्त हो चुका है। निश्चित ही हनुवंतिया एक अद्भुत स्थान है व इसे एक पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने की अब भी अपार संभावनाएँ हैं। मेरे अनुभव से मैं कहना चाहूँगा की हनुवंतिया पहुँचने के लिए संसाधनों का अभाव है। यदि इंदौर,खंडवा,बुरहानपुर,ओंकारेश्वर आदि स्थानों से हनुवंतिया पहुँचने हेतु वाहन सुविधा सरकार द्वारा उपलब्ध की जाए तो हनुवंतिया में पर्यटकों की संख्या में तेज़ी से वृद्धि होगी।

धन्यवाद

Chatarsingh Gehlot 3 weeks 1 day ago

नाम से ही स्पष्ट है कि यह जल महोत्सव है। हम सब जानते हैं कि जल ही जीवन है और जल के अभाव में जीवन की कल्पना भी असंभव। अतः जल महोत्सव से जल बचाओ अभियान का प्रारंभ किया जाना चाहिए ताकि जल संरक्षण की ओर आम जनता भी आकर्षित हो सके और इस मेले में इस महोत्सव में जल संरक्षण से संबंधित सभी प्रकार की प्रदर्शनियां गोष्ठियां प्रतियोगिताएं भी आयोजित होना चाहिए जिसमें जनसामान्य से लेकर के शासकीय कर्मचारी तक सभी अपनी अपनी बुद्धि के अनुसार जल संरक्षण के महत्वपूर्ण विषय पर अपना मत दे सके ।
chatarsingg@gmail.com

Pradeep Jaiswal 1 month 2 weeks ago

महोदय
mp.mygov.in मध्य प्रदेश सरकार का एक सरहानीय कदम है ,क्युकी यह सरकार में आम आदमी की भागीदारी सुनिश्चित करता है | आपकी वेबसाइट के माध्यम से पर्यटन से जुड़ा एक सुझाव है की मध्य प्रदेश में ऐसे कई स्थान है जिनमे पर्यटन की अपार संभावनाए है पर विकास के अभाव में वे अभी तक चर्चित नहीं है | आपकी वेबसाइट से ऐसे सभी स्थान क बारे में सुझाव मांगे जाए ताकि वे पर्यटन क रूप में विकसित हो सके |

Ravindra Kumrawat 2 months 2 days ago

सबसे पहले हमें पर्यटन पुलिस की स्थापना करनी होंगी क्योंकि पर्यटन स्थल पर सबसे ज्यादा सुरक्षा नही होने के कारण कोई भी जाने से डरता है इस लिए पर्यटन पुलिस थाने पर्यटन स्थल पर होंगे तो पर्यटन हर समय आएंगे। जिससे रोजगार बढ़ेंगे,और इन पर्यटन के आने से होने वाली इनकम से उन पुलिस को वेतन दिया जा सकता है।पर्यटन स्थल पर होने वाले क्राइम को भी रोका जा सकता हैं।जब सुरक्षा होगी तो पर्यटन बढ़ेंगें जिससे अर्थव्यवस्था को बल मिलेगा।

Sagar Anant 2 months 1 week ago

हनुवंतिया जल महोत्सव में जाने के लिये मध्य प्रदेश Tourism की तरफ से विशेष टूर पैकेज की शुरुआत की जाये तथा टूर पैकेज का किराया कम रखा जाये ताकि सामान्य वर्ग के लोग भी हनुवंतिया जल महोत्सव का आनंद ले सकें!
पर्यटक स्थल को विकसित करने मकसद / उद्देश्य सिर्फ आय ज्यादा से ज्यादा आय कमाना नहीं होना चाहिए!

ARJUN PALIWAL_1 2 months 1 week ago

मेने यहाँ एक फ्लोटिंग रेस्टोरेंट प्लान किया है जो कि म.प्र शा. के अंडर आएगा और उस मे पर मेंबर टिगिट रहेगी + वहाँ म.प्र के सभी शहरों के व्यंजन एक जगह पर उपलभ्ध होंगे ।
100 मेंबर एक साथ खाना यहाँ खा सके ऐसा रहेगा ।
यह म.प्र शा. का पहला ऐसा रेस्तरां होगा जो हनुमंतिया में बनेगा और म.प्र राज्य का नाम सम्पूर्ण भारत मे होगा ।
संपर्क,
9300001930