You don't have javascript enabled. Please Enabled javascript for better performance.

इन्दिरा गांधी राष्ट्रीय वृद्धावस्था पेंशन योजना पर नागरिकों के सुझावों का आमंत्रण

एक समय आता है जब उम्र के साथ-साथ रिश्ते-नाते भी छूटने लगते हैं, घरों ...

See details Hide details

एक समय आता है जब उम्र के साथ-साथ रिश्ते-नाते भी छूटने लगते हैं, घरों में बुजुर्ग उपेक्षा के शिकार होने लगते हैं और धन अर्जित न करने की असहनीय पीड़ा उन्हें ग्रसित करने लगती है। इसके साथ ही उम्र के इस पड़ाव में बीमारियां भी दामन थामने लगती हैं। इन्हीं कारणों को देखते हुए प्रदेश में भारत सरकार, ग्रामीण विकास मंत्रालय, ग्रामीण विकास विभाग द्वारा राष्ट्रीय सामाजिक सहायता कार्यक्रम (NSAP) के अंतर्गत गरीबी रेखा से नीचे जीवन-यापन करने वाले वृद्धों को आर्थिक सहायता प्रदाय करने के उद्देश्य से इंदिरा गांधी राष्ट्रीय वृद्धावस्था पेंशन योजना संचालित की जा रही है। योजना का क्रियान्वयन एवं संचालन म०प्र० शासन, सामाजिक न्याय एवं नि:शक्‍तजन विभाग द्वारा किया जा रहा है।

सामाजिक न्याय एवं निशक्तजन कल्याण विभाग द्वारा गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन करने वाले वृद्धजनों को जीवन यापन करने हेतु सम्मानपूर्वक आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। योजना का क्रियान्वयन राज्य सरकार और केंद्र सरकार दोनों की ओर से किया जाता है।

बता दे कि गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन करने वाले 60 वर्ष या उससे अधिक आयु के वृद्ध इसके लिए पात्र होंगे। जिसके अंतर्गत 60 वर्ष से 79 वर्ष तक आयु के हितग्राहियों को प्रतिमाह रुपये 300/- (रु. 100/- राज्यांश + रु. 200/- केन्द्रांश) की दर से पेंशन प्रदाय की जाती है और 80 वर्ष या इससे अधिक आयु के हितग्राहियों को प्रतिमाह रुपये 500/-(केन्द्रांश) की दर से इंदिरा गांधी राष्ट्रीय वृद्धावस्था पेंशन प्रदाय की जाती है। इस योजना के तहत वर्ष 2017-18 तक 13,844,841 हितग्राहियों का लाभान्वित किया गया है।

इन्दिरा गांधी राष्ट्रीय वृद्धावस्था पेंशन योजना को वृद्धों के लिये और कैसे लाभदायी बनाया जा सकता है? आप अपने महत्वपूर्ण सुझाव और प्रतिक्रियाएं हमें भेज सकते हैं।

All Comments
Reset
16 Record(s) Found

radheshyam vishwkarma 5 hours 52 min ago

Sir kai rajyo me pensan adhik hai chahe gujrat ho ya maharastra sab jagah bujurg pensando adhik milti hai to madhya pradesh me kyo nahi?

Buddhasen Patel 12 hours 30 min ago

05.सभी वरिष्ठजनों हेतु परिचय पत्र शासन, प्रशासन द्वारा दिया जाना चाहिये जो कि संबंधित स्थान पर मान्य हो जैसे दिल्ली, महाराष्ट्र आदि राज्यों में दिए जा रहे हैं।
06. वरिष्ठजनों हेतु निशुल्क अथवा नाममात्र प्रीमियम पर स्वास्थ्य सुरक्षा बीमा सुविधा होना चाहिये।
07. वरिष्ठ नागरिकों को बैंक जमा राशि पर सामान्य से 2 प्रतिशत अधिक ब्याज दिया जाना चाहिये ।

Buddhasen Patel 12 hours 30 min ago

3)देश के अलग अलग राज्यों में इंदिरा गांधी पेंशन 1500 से 5000 तक है तथा शासन की मान्यता है कि वरिष्ठ नागरिक सम्मानित जीवन यापन करें। अत: म.प्र. में भी यह पेंशन कम से कम 2000/- प्रतिमाह होना आवश्यक है। 04. वरिष्ठजनो के कल्याण एवं समस्याओ के प्रति जागरूकता रखने हेतु राज्यसभा, राज्यपरिषद, जिला, जनपद, पंचायत, नगर निगम, नगर पालिका आदि में वरिष्ठ नागरिकों का भी मनोनयन होना चाहिये इनकों विभिन्न क्षेत्रों का अनुभव होता है।05.सभी वरिष्ठजनों हेतु परिचय पत्र शासन, प्रशासन द्वारा दिया जाना चाहिये जो कि संबं

Buddhasen Patel 12 hours 32 min ago

इंदिरा गांधी पेंशन एवं अन्य सुविधाएं,योजनाओं का प्रचार, प्रसार के अभाव में अधिकतम पात्र वरिष्ठ नागरिक अनभिज्ञ है। अत: प्रचार प्रसार की व्यापक व्यवस्था हो।
02. चूंकि वरिष्ठ नागरिक तथा अन्य निशक्तजनों से संबंधित अनेक योजनाओं का भार सामाजिक न्याय विभाग पर है। अत: केन्द्र तथा राज्य स्तर पर एक आयुक्त कार्यालय तथा शाखाएं पंचायत स्तर पर होना अत्याधिक उपयोगी होगा । इससे माता पिता भरण पोषण एवं वरिष्ठ नागरिक कल्याण अधिनियम पर भी वांछित कार्य हो सकेगा।
03. देश के अलग अलग राज्यों में इंदिरा गांधी पेंशन

Anil Patel 3 days 12 hours ago

वृद्धावस्था पेंशन लेने के लिए बुजर्ग भारी परेशान होते रहते है |खासतोर पर दूर दराज के बृदध तो जयादा ही मुसीबत झेलते है|CM जीCHHELPLINE की तरह ऑनलाइन सुबिधा स्टार्ट कीजीये पेंसन हेतु|आप इससे एक बार फिर म प्र के CM बन सकते है|बुजुर्गो का अशरीरवाद भगवान से काम नहीं है|
और पेंशन की राशि बढ़ाने की जरुरत बहुत जयादा है|इतने कम पेंसन से कुछ भी नहीं होने वाला है|महगाई बहुत जयादा है |कम्प्लीट प्रोजेक्ट केलिए WWW.HINDISLOGANS.COM की स्टूडेंट टीमCMसर से सलाह मसविरा करना चाहती है |ANIL BS PATEL9893555703

Ramakrishna Lakshmanan 1 week 1 day ago

Sir, i suggest that pension for age group of 60 to 79 may be increased to 700 rs per month and for age above 80 may be increased to 1000 rs per month as, the prevailing pension is not sufficient considering the present cost of living.

Ankit Rajpoot 1 week 2 days ago

Sir ye yojna to bahut acchi h but eska lab sabhi ko prapt nahi ho pata h is yojna ka labh sabhi ko milna chahiye chahe wo koye bhi jati ka ho har jati me sabhi log samachar nahi hote h unki dakshata ko dekh kar pensando milna chahiye sir thanks

kapil patidar_2 1 week 2 days ago

बुजुर्गों को वृद्धा पेशन सरलता से मिल सके इस समस्या पर ध्यान देने कि आवश्यकता है !
बैक sbiव अन्य बैक मे बैक कर्मचारियों कि कमी और बैंक अधिकारियों कि अभ्रद व्यवहार के कारण बुजुर्गों पेशन लेने मे परेशानी होती है बैंक द्वारा कई धण्टो तक बैठा कर रखा जाता अंत मे कहा जाता अब कल आना बुजुर्गो को बार बार बैंक चक्कर लगाने पडते है बैक को बुजुर्गों को परेशान करना अच्छा लगता