You don't have javascript enabled. Please Enabled javascript for better performance.

ऑनलाइन ठगी से बचने के लिए अपने विचार साझा करें

भागदौड़ भरी जिंदगी और समय की जरूरत को देखते हुए हम सभी की दिलचस्पी ...

See details Hide details

भागदौड़ भरी जिंदगी और समय की जरूरत को देखते हुए हम सभी की दिलचस्पी ऑनलाइन खरीदारी की तरफ लगातार बढ़ती जा रही है। आज के दौर में online advertising websites पर कई प्रकार के फ्री विज्ञापन देने वाली कंपनियां भी मौजूद हैं। अक्सर हम ऑनलाइन एडवरटाइजिंग प्लेटफॉर्म जैसे OLX, Cars24, Quikr के माध्यम से सस्ती चीजें खरीदने या महंगे सामान को बेचने के चक्कर में धोखे का शिकार हो जाते हैं।

निम्नलिखित तरीकों से आप भी हो सकते हैं ऐसे धोखे का शिकार :-

1. डिजिटल हेराफेरी (Digital Manipulation):

• UPI Payment Links के माध्यम से आपको गुमराह कर ठग लिया जाता है।
• किसी अन्य व्यक्ति के विज्ञापनों का उपयोग कर आपको ठगा जाता है।

उपाय:

• यदि कोई आपके विज्ञापन को देखकर पेमेंट प्राप्त करने के लिए ई-वॉलेट या यूपीआई से आपको Request Money की लिंक भेजता है तो Pay / Send Money वाले ऑप्शन पर क्लिक करने से पहले पूणतः ध्यान से पढे।
• कोई भी सौदा करने से पहले या एडवांस पैमेंट करने से पहले संबंधित विक्रेता से व्यक्तिगत मिलकर ही सौदा करें।

2. फोटो मॉर्फिंग (Photo Morphing):

एडवांस पेमेंट के नाम पर प्रोडक्ट की फोटो बदलकर आपको गुमराह किया जा सकता है, जिस प्रोडक्ट को आपने पसंद किया हो असल में वह प्रोडक्ट दिखने में वैसा न हो।

उपाय:

यदि विक्रेता आपको सामान भेजता है तो सामान की बिना जांच पड़ताल किए ऑनलाइन एडवांस में किसी भी तरह की राशि का भुगतान न करें।

3. फर्जी पहचान (Impersonation):

वह आपको आर्मी या अर्धसैनिक बल का जवान बताकर आपसे एडवांस पेमेंट ले सकता है या फिर धोखाधड़ी कर व्हाट्सअप पर आपके पर्सनल दस्तावेज़ प्राप्त कर सकता है। वह आपको अपनी ऐसी पहचान बतायेंगे जिससे आप उनपर बिना किसी शक के आप आसानी से विश्वास कर सकें।

उपाय:

व्यक्ति से सामने मिलकर ही उसका विश्वास करें न कि WhatsApp पर होने वाली बात का भरोसा करें और सामान बेचते या खरीदते समय व्हाट्सअप पर अपने पर्सनल दस्तावेज़ किसी से शेयर न करें।

यदि आप भी ऑनलाइन एडवरटाइजिंग प्लेटफॉर्म से सामान खरीदते एवं बेचते हैं तो सावधान हो जाइये, कुछ ठग ऑनलाइन एडवरटाइजिंग वेबसाइट पर झूठे एवं लुभावने विज्ञापन डालते हैं और आपको ठगने का काम करते हैं। ऑनलाइन एडवरटाइजिंग प्लेटफॉर्म पर आपके द्वारा डाले गए विज्ञापन को देखते ही इच्छुक ख़रीदार के साथ-साथ ठग भी आपसे संपर्क कर सकते हैं।

उदाहरण के तौर पर OLX, Cars24, Quikr ऐसे ऑनलाइन माध्यम हैं जिसके प्रयोग से नागरिक अपना पुराना सामान बेचने या खरीदने के लिए फ्री में विज्ञापन अपने नाम एवं मोबाइल नंबर के साथ डाल सकते हैं। जिसका ठग द्वारा गलत फायदा उठाया जाता है और विज्ञापन डालने वाले व्यक्ति से फर्जी तरीके से एडवांस पैमेंट ले सकते हैं या फिर Test Drive करने के नाम पर वाहन लेकर भाग जाते हैं।

State Cyber Police, Madhya Pradesh को ऑनलाइन एडवरटाइजिंग प्लेटफॉर्म के माध्यम से लोगों से अलग-अलग ठगी करने संबंधी कई शिकायतें प्राप्त हुई हैं, लगातार प्राप्त हो रही शिकायतों की वजह से विशेष महानिदेशक राज्य साइबर पुलिस, मध्य प्रदेश श्री पुरुषोत्तम शर्मा (IPS) नागरिकों से इस संबंध में जागरुक और सावधान रहने की अपील करते हैं।

आम लोगों को ठगी का शिकार होने से बचाना चाहते हैं तो आप भी इस संबंध में अपने सुझाव एवं विचार mp.mygov.in पर साझा कर सकते हैं। आपके द्वारा दिए गए महत्वपूर्ण सुझाव प्रदेश से क्राइम को काफी हद तक खत्म करने में सफल साबित हो सकते हैं।

सतर्क और सावधान रहिये!

All Comments
Reset
169 Record(s) Found
11970

GURUSANKARAN L 1 hour 26 min ago

First thanks MP Cybers Crime Dept for this.1.First create a committee for all states police officials each one them in the committee.Their duty to collect all online products company details and then their liabilities. Issue new law all online companies to get Pork e from this committe.2 In technologies world we use android phones and it will provide on line face to face identities that i ly use to transction.3.Laws are very powerful to this online transction and people don't share their details

4500

Chandan Kumar 3 hours 35 min ago

ऑनलाइन लेनदेन में फ्रॉड के नए मामले भी सामने आ रहे हैं। फ्रॉड कॉल के जरिए या कार्ड नंबर या बैंक डिटेल तक पहुंच बनाने के लिए वॉयस-ओवर-इंटरनेट तकनीक का इस्तेमाल कर रहे हैं। वेबसाइट के माध्यम से हम कोई सामान खरदीते है तो पेमेंट ऑनलाइन करने पर कार्ड का डिटेल्स सेव हो जाता है सुरक्षित वेबसाइट से ही खरीदारी करे, जिस वेबसाइट की जानकारी न हो उसे कोई भी सामान न ख़रीदे, पेमेंट कॅश में ही पेय करे. किसी भी कॉल या मैसेज को अच्छे से पढ़े उसे जांचे फिर आगे किसी को शेयर करे या उसपर बिश्वास करे.

4500

Chandan Kumar 3 hours 35 min ago

New cases of fraud are also surfacing in online transactions. Fraud calls are using voice-over-internet technology to access card numbers or bank details. If we purchase any goods through the website, then the details of the card are saved on making the payment online, shop only from the secure website, do not buy any goods, which do not know the website, drink it in the payment cash only. Read any call or message thoroughly, check it, then share it or trust someone further.

25360

Bhawna 4 hours 37 min ago

ऑनलाइन लेनदेन का इस्तेमाल जैसे-जैसे बढ़ रहा है, वैसे वैसे इसमें फ्रॉड के नए मामले भी सामने आ रहे हैं। हाल-फ़िलहाल में जलसाज फ्रॉड कॉल के जरिए या क्रेडिट कार्ड नंबर या बैंक डिटेल तक पहुंच बनाने के लिए वॉयस-ओवर-इंटरनेट तकनीक का इस्तेमाल कर रहे हैं। हम इस खबर में आपको बताएंगे कि कैसे होता है इस तकनीक का इस्तेमाल और आप इससे कैसे बच सकते हैं। लेकिन सबसे पहले जानिए ऑनलाइन फ्रॉड के कौन कौन से तरीके हैं।

25360

Bhawna 4 hours 37 min ago

ऑनलाइन लेनदेन का इस्तेमाल जैसे-जैसे बढ़ रहा है, वैसे वैसे इसमें फ्रॉड के नए मामले भी सामने आ रहे हैं। हाल-फ़िलहाल में जलसाज फ्रॉड कॉल के जरिए या क्रेडिट कार्ड नंबर या बैंक डिटेल तक पहुंच बनाने के लिए वॉयस-ओवर-इंटरनेट तकनीक का इस्तेमाल कर रहे हैं। हम इस खबर में आपको बताएंगे कि कैसे होता है इस तकनीक का इस्तेमाल और आप इससे कैसे बच सकते हैं। लेकिन सबसे पहले जानिए ऑनलाइन फ्रॉड के कौन कौन से तरीके हैं।

25360

Bhawna 4 hours 37 min ago

ऑनलाइन लेनदेन का इस्तेमाल जैसे-जैसे बढ़ रहा है, वैसे वैसे इसमें फ्रॉड के नए मामले भी सामने आ रहे हैं। हाल-फ़िलहाल में जलसाज फ्रॉड कॉल के जरिए या क्रेडिट कार्ड नंबर या बैंक डिटेल तक पहुंच बनाने के लिए वॉयस-ओवर-इंटरनेट तकनीक का इस्तेमाल कर रहे हैं। हम इस खबर में आपको बताएंगे कि कैसे होता है इस तकनीक का इस्तेमाल और आप इससे कैसे बच सकते हैं। लेकिन सबसे पहले जानिए ऑनलाइन फ्रॉड के कौन कौन से तरीके हैं।

25360

Bhawna 4 hours 37 min ago

ऑनलाइन लेनदेन का इस्तेमाल जैसे-जैसे बढ़ रहा है, वैसे वैसे इसमें फ्रॉड के नए मामले भी सामने आ रहे हैं। हाल-फ़िलहाल में जलसाज फ्रॉड कॉल के जरिए या क्रेडिट कार्ड नंबर या बैंक डिटेल तक पहुंच बनाने के लिए वॉयस-ओवर-इंटरनेट तकनीक का इस्तेमाल कर रहे हैं। हम इस खबर में आपको बताएंगे कि कैसे होता है इस तकनीक का इस्तेमाल और आप इससे कैसे बच सकते हैं। लेकिन सबसे पहले जानिए ऑनलाइन फ्रॉड के कौन कौन से तरीके हैं।

25360

Bhawna 4 hours 37 min ago

ऑनलाइन लेनदेन का इस्तेमाल जैसे-जैसे बढ़ रहा है, वैसे वैसे इसमें फ्रॉड के नए मामले भी सामने आ रहे हैं। हाल-फ़िलहाल में जलसाज फ्रॉड कॉल के जरिए या क्रेडिट कार्ड नंबर या बैंक डिटेल तक पहुंच बनाने के लिए वॉयस-ओवर-इंटरनेट तकनीक का इस्तेमाल कर रहे हैं। हम इस खबर में आपको बताएंगे कि कैसे होता है इस तकनीक का इस्तेमाल और आप इससे कैसे बच सकते हैं। लेकिन सबसे पहले जानिए ऑनलाइन फ्रॉड के कौन कौन से तरीके हैं।

25360

Bhawna 4 hours 37 min ago

ऑनलाइन लेनदेन का इस्तेमाल जैसे-जैसे बढ़ रहा है, वैसे वैसे इसमें फ्रॉड के नए मामले भी सामने आ रहे हैं। हाल-फ़िलहाल में जलसाज फ्रॉड कॉल के जरिए या क्रेडिट कार्ड नंबर या बैंक डिटेल तक पहुंच बनाने के लिए वॉयस-ओवर-इंटरनेट तकनीक का इस्तेमाल कर रहे हैं। हम इस खबर में आपको बताएंगे कि कैसे होता है इस तकनीक का इस्तेमाल और आप इससे कैसे बच सकते हैं। लेकिन सबसे पहले जानिए ऑनलाइन फ्रॉड के कौन कौन से तरीके हैं।

25360

Bhawna 4 hours 37 min ago

ऑनलाइन लेनदेन का इस्तेमाल जैसे-जैसे बढ़ रहा है, वैसे वैसे इसमें फ्रॉड के नए मामले भी सामने आ रहे हैं। हाल-फ़िलहाल में जलसाज फ्रॉड कॉल के जरिए या क्रेडिट कार्ड नंबर या बैंक डिटेल तक पहुंच बनाने के लिए वॉयस-ओवर-इंटरनेट तकनीक का इस्तेमाल कर रहे हैं। हम इस खबर में आपको बताएंगे कि कैसे होता है इस तकनीक का इस्तेमाल और आप इससे कैसे बच सकते हैं। लेकिन सबसे पहले जानिए ऑनलाइन फ्रॉड के कौन कौन से तरीके हैं।