You don't have javascript enabled. Please Enabled javascript for better performance.

जन्म, मृत्यु, विवाह के पंजीयन और जागरुकता पर सुझावों का आमंत्रण

जन्म, मृत्यु और विवाह का पंजीयन कराने हेतु नागरिकों का जागरूक होना ...

See details Hide details

जन्म, मृत्यु और विवाह का पंजीयन कराने हेतु नागरिकों का जागरूक होना आवश्यक है। आज के समय में किसी भी कानूनी कार्य के लिए इन पंजीयन दस्तावेजों की आवश्यकता होती है, इसलिये सही समय पर जन्म, मत्यु औऱ विवाह का पंजीयन अवश्य करवायें।

समय पर पंजीयन करवाने से भविष्य में होने वाली परेशानियों से आप निजात पा सकते हैं। जन्म, मृत्यु् एवं विवाह का पंजीकरण सामाजिक एवं आर्थिक विकास के लिये काफी अहम है। पंजीकरण से प्राप्त सूचनाएं शासन के नीति निर्माण में सहायक होती हैं।

शिशु का जन्म, व्यक्ति की मृत्यु औऱ किसी व्यक्ति का विवाह संपूर्ण होने के बाद उसकी सूचना अपने क्षेत्र के रजिस्ट्रार कार्यालय (ग्रामीण क्षेत्र में ग्राम पंचायत एवं शहरी क्षेत्र में नगर पालिका /नगर परिषद/नगर निगम कार्यालय) को देकर जन्म, मृत्यु और विवाह होने का पंजीकरण करवा सकते हैं।

योजना, आर्थिक एवं सांख्यिकी विभाग जन्म/मृत्यु/विवाह का पंजीयन करवाने हेतु राज्य के नागरिकों से अपील करता है और इस विषय पर जागरूकता हेतु आपके सुझाव औऱ परामर्श आमंत्रित करता है।

जन्म, मृत्यु और विवाह के पंजीयन की अधिक जानकारी के लिये यहां क्लिक करें

All Comments
Reset
42 Record(s) Found

saurabh_32 2 days 1 hour ago

इन सब का पंजीयन अनिवार्य रूप से सभी को करवाना चाहिए । सरकार को इस सुविधा को भी आनलाईन और शीघ्र प्रदान करने की व्यवस्था करनी चाहिए । वर्तमान में भी पंजीयन प्रक्रिया थोड़ी कठिन है जिसके कारण न चाहते हुए भी व्यक्ति दलालों के चक्कर में पढ़ जाता है । क्या सरकार ऐसा नियम नही बना सकती जहाँ बच्चे का जन्म हुआ हो वह संस्थान स्वयं ही अनिवार्य रूप से तीन दिवस के भीतर जन्म प्रमाण पत्र (बिना किसी चार्ज) बनवाकर बच्चे के माता पिता को सौपे । ऐसे ही म्रत्यु प्रमाण पत्र स्वतः एक निश्चित अवधि के अंदर मिलना चाहिए ।

Rajendra jatav 3 days 14 hours ago

मृत्‍यु प्रमाण पत्र एक दस्‍तावेज होता है जिसे मृत व्‍यक्ति के निकटतम रिश्‍तेदारों को जारी किया जाता है, जिसमें मृत्‍यु का तारीक तथ्‍य और मृत्‍यु के कारण का विवरण होता है। मृत्‍यु का समय और तारीख का प्रमाण देने, व्‍यष्टि को सामाजिक, न्‍यायिक और सरकारी बाध्‍यताओं से मुक्‍त करने के लिए, मृत्‍यु के तथ्‍य को प्रमाणित करने के लिए सम्‍पत्ति संबंधी धरोहर के विवादों को निपटान करने के लिए और परिवार को बीमा एवं अन्‍य लाभ जमा करने के लिए प्राधिकृत करने के लिए मृत्‍यु का पंजीकरण करना अनिवार्य है। Rajendra

Rajendra jatav 3 days 14 hours ago

जन्म के पंजीकरण के बाद आवेदक को जन्म प्रमाण-पत्र दिया जाता है। इसके होने से भारत सरकार द्वारा नागरिकों को प्रदान की जाने वाली बहुत सारी सेवाओं का लाभ उठाया जा सकता है। जन्म प्रमाणपत्र इसलिए लेना जरूरी है क्योंकि सरकारी प्रयोजनों के लिए जन्म की तारीख और तथ्य को प्रमाणित करने के लिए इसकी जरूरत होती है। इसके अलावा वोट देने का अधिकार प्राप्त करना, स्कूलों में एडमिशन और सरकारी सेवाओं में दाखिला आदि के लिए भी इसकी जरूरत होती है। जन्म प्रमाण-पत्र के लाभ -
स्कूल में एडमिशन ।लाइसेंस पासपोर्ट आदि में

Rajendra jatav 3 days 14 hours ago

मैरिज सर्टिफिकेट इस बात का आधिकारिक प्रमाण होता है कि 2 लोग शादी के बंधन में बंधे हैं. आजकल जन्म प्रमाणपत्र को उतनी अहमियत नहीं दी जाती, जितनी विवाह प्रमाणपत्र को दी जाती है. लिहाजा, इसे बनवाना अहम है. भारत एक धर्मनिरपेक्ष देश है.आप की शादी हुई है इस बात का अनिवार्य कानूनी सुबूत है मैरिज सर्टिफिकेट. आप बैंक खाता खोलने, पासपोर्ट बनवाने या किसी और दस्तावेज के रूप में प्रयोग ,
Rajendra jatav ( Teacher ) in Gyanodya school
Age 21. Mo.7247512001
Add- Bagmugaliya bhopal

Jaynarayan Vishwakrma 3 weeks 2 days ago

Jaynarayan Vishwakarma

माननीय मुख्यमंत्री जी सादर प्रणाम
कौशल निर्माण, राज्य के विकास का मुख्य पहलू हैं।
क्योंकि कौशल निर्माण व राज्य का विकास एक ही सिक्के के दो पहलू हैं। कौशल निर्माण के लिए प्रत्येक
योजनाओं को जमीनी स्तर से लागु किया जाना चाहिए
इसके लिए संयंत्र विकसित किया जाना चाहिए जो क्रमशः नीचे से ऊपर तक नीतीगत मसौदे की रूपरेखा तैयार करने में मदद करेगा।

साथ ही श्रीमान। राज्य के युवाओं को जोड़ना होगा‌।
ताकि सब मिलकर अपनी मां को आसमान से अनंत तक पहुंचाएं।

purushottam choure 3 weeks 6 days ago

1)जन्म मृत्यु पंजीयन कराईये |
बेफिक्र जीवन का आनंद उठाईये
2)जन्म मृत्यु पंजीयन ज़रूरी|
यह आपके पूरे जीवन क़े लिए लाभकारी