You don't have javascript enabled. Please Enabled javascript for better performance.

जल जीवन का पर्याय है, आइये साथ मिलकर जल बचाएँ

जल पृथ्वी पर उपस्थित महत्वपूर्ण पदार्थों में से एक है। यदि जल नहीं ...

See details Hide details

जल पृथ्वी पर उपस्थित महत्वपूर्ण पदार्थों में से एक है। यदि जल नहीं होता तो पृथ्वी पर जीवन भी संभव नहीं होता। जल जीवन का पर्याय है, क्योंकि कोई भी जीवित प्राणी इसके बिना नहीं रह सकता।

वर्तमान परिदृश्य में बढ़ते शहरीकरण एवं जनसंख्या वृद्धि के कारण हमारे नगरों की अधोसंरचना व्यवस्था पर अत्यधिक दबाव दिखाई दे रहा है। प्रदेश भर में पेयजल की समस्या चुनौती बनकर उभर रही है और अधिकांश नगरीय निकाय अल्प वर्षा अथवा पेयजल के स्त्रोतों की कमी जैसी समस्याओं का लगातार सामना कर रहे हैं। बढ़ती हुई ग्लोबल वार्मिंग भी एक बड़ा कारण है, जिसकी वजह से हम लगातार गिरते हुए जल-स्तर और पानी की कमी का सामना कर रहे हैं।

इन तथ्यों से यह स्पष्ट है कि पेयजल समस्या का स्वरूप अत्यधिक गंभीर है और यदि इस दिशा में समयानुसार उचित कदम नहीं उठाये गये तो आने वाले भविष्य में यह स्थिति भयावह हो सकती है। अगर हम जल का सही तरीके से उपयोग नहीं करेंगे तो भविष्य में हमें एक बड़ी समस्या का सामना करना पड़ सकता है।

सरकार के साथ-साथ हम सभी की जिम्मेदारी है कि हम जल का संरक्षण करें। उसका सही तरीके से उपयोग करें, अनावश्यक इसे बर्बाद होने से बचाएँ। हम सभी अपने घरों में छोटे-छोटे उपाय करके पानी को अनावश्यक बर्बाद होने से बचा सकते हैं। जैसे-

• बर्तनों में ताज़ा पानी भरते समय उसमें पहले से भरे पानी को व्यर्थ न बहायें, उसका उपयोग करें।
• नहाते समय, अपने दांतों को ब्रश करते हुए, अपना चेहरा धोते समय पानी को बाल्टी या जग में भरने की कोशिश करें एवं जरूरत के अनुसार इसका उपयोग करें।
• R.O. यंत्र, AC, Refridgerator इत्यादि से waste के रूप में निकलने वाले पानी का पेड़-पौधों में पुन: उपयोग करें ।
• अपने बगीचे इत्यादि में पानी देते समय पाइप की जगह जग या बाल्टी का उपयोग करें, इससे निश्चित ही पानी की बचत होगी।
• पानी को सहेजने के लिए जल भंडारण विधियों, जल गुणवत्ता परीक्षण जैसे तकनीकों का उपयोग करें।

जल को आवश्यकतानुसार उपयोग करने एवं संरक्षित करने हेतु लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग, मध्यप्रदेश, आपके महत्वपूर्ण सुझाव आमंत्रित करता है। आप हमें सुझाएं कि हम सब कैसे इस महत्वपूर्ण पहल का हिस्सा बन सकते हैं, साथ ही कैसे अपने आसपास जल संरक्षण के लिए अपना योगदान कर सकते हैं?

अपने महत्त्वपूर्ण सुझाव MPMyGov पर साझा करें और प्रकृति की इस अनमोल धरोहर को सहेजने में हमारे साथ हाथ से हाथ मिला कर आगे बढ़ें।

All Comments
Reset
37 Record(s) Found

Shivanath mishra 11 hours 46 min ago

जय हिन्द वन्दे मातरम हमे पानी बचाने हेतु घर मे सबसे पहले हमे वाटर harvesting बनाना चाहिए जिससे पानी सीधा नीचे जाये चाहे वो कपड़े धोने का पानी हो या बारिश का पानी हो
अक्सर हमे अपने आस पास की नदियों को तालाबो को श्रमदान के माध्यम से साफ करना चाहिए

Upendra Dhakar 1 day 8 hours ago

महोदय में ग्राम पंचायत देवरी खुर्द तहसील पोहरी जिला शिवपुरी के ग्राम देवरी खुर्द का निवासी हूं जो कि सूखा प्रभावित क्षेत्र है यहां आसपास पुराने तालाब थे जिनमें बिलारे का तालाब , सिरसौद का तालाब, मारोरे का तालाब, परीक्षा का तालाब प्रमुख है यू कई बरसों से क्षतिग्रस्त है और निकट में ही सरकुला डेम के निर्माण की स्वीकृति प्राप्त हुई है अतः आपसे निवेदन है कृपया तालाब और डेम का कार्य प्रारंभ किया जाए और इस क्षेत्र को सूखाग्रस्त क्षेत्रों से निकाला जाए अगर समय रहते प्रयास नहीं किए गए तो परिणाम भयंकर है

R Gangadhar 1 day 19 hours ago

Jaise aadmi apna gold property assets ki dekhbhal kartha hai waise hi pani ko bhi sona property assets samjhe duniya may khabhi pani dikath hi nahi hogi

anand kumar 2 days 10 hours ago

वास्तव मॆ जल दॆवता है, न कि कॊइ हाथ पैर वालॆ कॊई मुर्ति
हम पत्थर कॆ दॆविदॆवता वालॆ मन्दिर की कदर् करतॆ है परन्तु जल कि
पेड़ पौधा का होना अति अवश्यक है पेड़ के बिना जल नहीँ होगा

MANOJ RANA 2 days 12 hours ago

जल के बिना जीवन आधुरा हे इसलिय इसका इस्तमाल सोच समझकर करे जल नही तो जीवन नही जल को अधिक अधिक संरषित करे पानी को दुस्सित होने से बचाया