You don't have javascript enabled. Please Enabled javascript for better performance.

बाढ़ सुरक्षा उपाय हेतु नागरिक अपने सुझाव दें

Start Date: 17-07-2020
End Date: 18-08-2020

राज्य आपदा आपातकालीन मोचन बल (SDERF), मध्य प्रदेश, भोपाल MP MyGov के सहयोग से ...

See details Hide details

राज्य आपदा आपातकालीन मोचन बल (SDERF), मध्य प्रदेश, भोपाल MP MyGov के सहयोग से सभी नागरिकों से बाढ़ सुरक्षा उपाय पर अपने विचार साझा करने के लिए आग्रह करता है; जिससे प्रदेश में बाढ़ सुरक्षा उपायों को और बेहतर एवं सुरक्षित बनाया जा सके।

हम जानते हैं प्राकृतिक आपदा जैसे- बाढ़ कभी भी घटित हो सकती है और ये आपदाएं कभी-कभी इतनी भयावह और बड़ी होती है कि इसे रोक पाना असंभव हो जाता है। लेकिन ऐसी आपदाओं में छोटे-छोटे एहतियाती उपाय हमें खुद को सुरक्षित रखने में काफी हद तक मदद कर सकते हैं। उदाहरण के तौर पर-

बाढ़ के दौरान...
✦ घबराएं नहीं, आपातकालीन टोल फ्री न. जैसे डायल 100, 1079, 108 पर जलभराव की सूचना दें।
✦ नदी के किनारों से सुरक्षित दूरी पर रहें।
✦ बच्चे, महिलाओं व बुजुर्गों का विशेष ध्यान रखें।
✦ पुल पर पानी रहने की स्थिति में उसे पार ना करें / अनावश्यक आवागमन से बचें।
✦ पुलिया / चट्टान के पास सेल्फी ना लें।
✦ ऐसे स्थान जहां पानी का तीव्र वेग हो वहां पिकनिक मनाने ना जाएं।
✦ ग्रामीण क्षेत्र के निवासी बारिश के समय मवेशी चराने ज्यादा दूर स्थान पर ना जाएं।
✦ ग्रामीण जन अपने घरों में आपातकालीन सामान जैसे- हवा भरे ट्यूब, रस्सियाँ, टार्च, बांस, सीटी इत्यादि अवश्य रखें।

राज्य आपदा आपातकालीन मोचन बल (SDERF) मध्य प्रदेश, आपदाओं की रोकथाम, आपदा के समय राज्य में लोगों की सुरक्षा सुनिश्चित करने और सुरक्षा उपायों को बेहतर बनाने के लिए निरंतर अपना कर्तव्य निभा रहा है।

बाढ़ जैसी आपदा के समय एहतियाती और सुरक्षात्मक उपायों पर लोगों में जागरूकता के लिए राज्य आपदा आपातकालीन मोचन बल, मध्य प्रदेश आपके सुझाव आमंत्रित करता है।

आप हमें बताएं कि-
1. बाढ़ जैसी प्राकृतिक आपदाओं के समय किस तरह के सुरक्षात्मक उपाय किये जाने चाहिए?
2. बाढ़ के समय बचाव कार्य में नागरिक किस तरह से सहयोग कर सकते हैं?

विस्तार में पढ़ें: बाढ़ एवं जलभराव के दौरान बरती जाने वाली सावधानियां

All Comments
Reset
39 Record(s) Found
2670

Sakharam kharat 1 week 2 days ago

(1) बाढ़ जैसी प्राकृतिक आपदाओं से बचने के लिए वर्षा के टाइम हमें पूर्व ही तैयारी कर लेनी चाहिए, ताकि हमें बाढ़ जैसी आपदा से बच सके ग्रामीण क्षेत्रों मैं नदी के किनारे रहले वाले ग्रामीण - टॉर्च, स्वच्छ पानी, खाने का सामान, व पानी के ऊपर तैरने की डब्बे या कोई लकड़ी का इंतजाम करके रखें ताकि वह आपदा के समय हमें काम आ सके।
(2)शहर में रहने वाले हैं नदी नालों के किनारे ज्यादा वर्षा होने पर वह वहां से आवश्यक यह वस्तुएं आदि लेकर दूर होना जाए ताकि वह सुरक्षित रह सके।

1070

krishankant patel 1 week 2 days ago

हमें बाढ़ आपदा से बचने के लिए दूरस्थ स्थानों पर रहना चाहिए जिससे कि हम बाढ़ से बच सके इसके अलावा हमें नाव का उपयोग भी करन चाहिए और पैराशूट के कपड़ों का उपयोग करना जिससे हम बाढ़ के पानी से बच सकें।

420

Premsingh Bhoyan 1 week 3 days ago

नदी नाला व्यवस्थित होना चाहिए और ज्यादा से ज्यादा पेड़ लगाएं

4960

Mukesh Kumar Garg 1 week 3 days ago

बारिश होना प्रकृति का नियम है हमारे वातावरण को संतुलित रखने के लिए अत्यंत आवश्यक भी है। पर अत्यधिक बारिश बाढ़ का रूप ले लेती है इससे बचने के लिए हमे बारिश आने के पूर्व से ही रुपरेखा बना लेना चाहिए कि अगर बाढ़ जैसी स्थिति बनती है तो हमे पहले से ही अपने सामान और जीवन की रक्षा कैसे करनी है। बाढ़ भी कुछ चुनिंदा जगह पे ही आती है जहाँ पानी के बहाव का साधन नहीं हो पाता। उसके लिए पहले से ही पानी के बहाव के लिए नालो को गहरा कर और बाँध बना कर या समय रहते अपना पलायन कर लेना ही बचाव की सही दिशा है।

6690

Krishna Bihari Gautam 1 week 3 days ago

बाढ़ ने एक कुदरती प्रकोप है जो आदिकाल से निरंतर मानवीय जीवन के जुझारूपन की कड़ी परीक्षा लेता है ।
बाढ़ से बचने के लिए हमें पूर्व नियोजित कार्यों की आवश्यक्ता पड़ती है ।
बाढ़ एकदम से नहीं आती अर्थात हमें कुछ वक्त जरूर मिलता है
जिसमें हम उसके भयानक प्रकोप से बच सकते हैं ।
अतः मेरे विचार में बाढ़ से बचने का सबसे सही ऊपर हमारे " मध्यप्रदेश " शब्द में छिपा है ।

नाम - कृष्ण बिहारी गौतम
पता - बल्देवगढ़ , जिला - टीकमगढ़
मोब.- 9399083375

2330

Mahendra Bais 1 week 4 days ago

बाढ़ प्राकृतिक आपदा है। इससे बचने के लिए कई उपाय भी किए जा सकते हैं।
सरकार को बाढ़ संबंधित जगह की सूची तैयार करना चाहिए जिससे उन इलाकों को खाली कराने में आसानी होगी तथा एक ऐसा ऐप बनाना चाहिए जो बाढ़ प्रभावित लोगों की तमाम सूचनाएं जरूरत सामान राशन सामग्री आदि का संपूर्ण विवरण हो
तथा इससे बाढ़ में लगने वाला खर्च और वह समय दोनों की बचत होगी

520

Kavita thakre 1 week 4 days ago

1 jab nadi mai badh aayi ho or rasta duba ho to gadi na chlaye
2 agr badh mai kisi vaykti ka ghar duba ho to uski madd karna chaiye
3 badh ka pani agr aapke ghar mai gussa ho र
To छत ki or jaye
4 rahatiyo ka intazar kare khud tehr kar bhagne ki kosish na kare
5 badh ke doran ghabraye nhi samjhdari se kaam le

6ped ki मेड banakar pani roka ja sakta hai

320

Darshika 1 week 5 days ago

1. badh se bachne ke lie phle se hi ndiyo ko saaf kar diya jana chahiye
2. is se smbndhit vibhag ki poori trah se nigrani rakhi jae taaki ve duty me kotahi n brte
3. aapda prabandhan smiti ko vichv stariya prashikshan de
4. nadiyo w naalo ki vrsha aane se pahle hi sfai kar di jani chaiye
5. MP govt ek esa calendar https://thedarshika.com/mp-govt-calendar-pdf/ bnae jisme varsh me hone wali chhuttio me, nadi naal o ki sfai ke vishesh abhiya chlaya jae, badh se bchen ke upay janta ko btaya ja