You don't have javascript enabled. Please Enabled javascript for better performance.

बाढ़ सुरक्षा उपाय हेतु नागरिक अपने सुझाव दें

Start Date: 17-07-2020
End Date: 31-10-2020

राज्य आपदा आपातकालीन मोचन बल (SDERF), मध्य प्रदेश, भोपाल MP MyGov के सहयोग से ...

See details Hide details

राज्य आपदा आपातकालीन मोचन बल (SDERF), मध्य प्रदेश, भोपाल MP MyGov के सहयोग से सभी नागरिकों से बाढ़ सुरक्षा उपाय पर अपने विचार साझा करने के लिए आग्रह करता है; जिससे प्रदेश में बाढ़ सुरक्षा उपायों को और बेहतर एवं सुरक्षित बनाया जा सके।

हम जानते हैं प्राकृतिक आपदा जैसे- बाढ़ कभी भी घटित हो सकती है और ये आपदाएं कभी-कभी इतनी भयावह और बड़ी होती है कि इसे रोक पाना असंभव हो जाता है। लेकिन ऐसी आपदाओं में छोटे-छोटे एहतियाती उपाय हमें खुद को सुरक्षित रखने में काफी हद तक मदद कर सकते हैं। उदाहरण के तौर पर-

बाढ़ के दौरान...
✦ घबराएं नहीं, आपातकालीन टोल फ्री न. जैसे डायल 100, 1079, 108 पर जलभराव की सूचना दें।
✦ नदी के किनारों से सुरक्षित दूरी पर रहें।
✦ बच्चे, महिलाओं व बुजुर्गों का विशेष ध्यान रखें।
✦ पुल पर पानी रहने की स्थिति में उसे पार ना करें / अनावश्यक आवागमन से बचें।
✦ पुलिया / चट्टान के पास सेल्फी ना लें।
✦ ऐसे स्थान जहां पानी का तीव्र वेग हो वहां पिकनिक मनाने ना जाएं।
✦ ग्रामीण क्षेत्र के निवासी बारिश के समय मवेशी चराने ज्यादा दूर स्थान पर ना जाएं।
✦ ग्रामीण जन अपने घरों में आपातकालीन सामान जैसे- हवा भरे ट्यूब, रस्सियाँ, टार्च, बांस, सीटी इत्यादि अवश्य रखें।

राज्य आपदा आपातकालीन मोचन बल (SDERF) मध्य प्रदेश, आपदाओं की रोकथाम, आपदा के समय राज्य में लोगों की सुरक्षा सुनिश्चित करने और सुरक्षा उपायों को बेहतर बनाने के लिए निरंतर अपना कर्तव्य निभा रहा है।

बाढ़ जैसी आपदा के समय एहतियाती और सुरक्षात्मक उपायों पर लोगों में जागरूकता के लिए राज्य आपदा आपातकालीन मोचन बल, मध्य प्रदेश आपके सुझाव आमंत्रित करता है।

आप हमें बताएं कि-
1. बाढ़ जैसी प्राकृतिक आपदाओं के समय किस तरह के सुरक्षात्मक उपाय किये जाने चाहिए?
2. बाढ़ के समय बचाव कार्य में नागरिक किस तरह से सहयोग कर सकते हैं?

विस्तार में पढ़ें: बाढ़ एवं जलभराव के दौरान बरती जाने वाली सावधानियां

All Comments
Reset
165 Record(s) Found
140

Shruti suryavanshi 1 year 3 weeks ago

बाढ़ , भूकम्प यह सब प्राकृतिक घटना हैं जो की कभी भी घटित हो सकती हैं , और कभी भी विशाल रूप ले सकती हैं |
इससे बचने के लिए निम्न उपाय अपनाएँ -
पानी में डूबा रास्ते में गाड़ी न चलाये। कोइ दूसरा रास्ता ढुडें।
गिरे हुए बिजली के तार से बहुत सावधान रहे। अगर यह पानी में गिर जायें तो उस पानी में हर वय्क्ति मौत का शिकार हो सकता है। घर में डूबे हुये बिजली के तार से भी यह खतरा है।
सांप तथा अन्य जानवर आपके घर में घुस सकता है, उनसे सावधान रहे।

100

Harshita Paraste 1 year 3 weeks ago

Baadh se bachne ke liye hame uche chhetro ke ghar bnana chahiye. Badh bade bade shehro ko bhi prabhavit krti hai. Hmare shehro me nadi or chhote chhote nale na hone ke karan badh aati hai agr hum nadi ya nale bna de to pura pani usi se hokar kisi bade nadi m mil jayega or badh aapda kam hogi.

380

Mamata Suryac 1 year 3 weeks ago

हम जानते हैं कि प्राकृतिक आपदा जैसे बाढ़ कभी भी घटित हो सकती है
और यह आपदाएं कभी-कभी इतनी भयानक और बड़ी होती है
कि उसे रोक पाना असंभव हो जाता है और ऐसी आपदाओं में
जनधन कीवी अधिक से अधिक हानि होती है
बाढ़ आपदा की वजह से कई लोगों की जान चली जाती है
कई लोग बेघर हो जाते हैं बाढ़ आपदा गांव के साथ-साथ बड़े बड़े शहरों को भी
प्रभावित करती है

100

Rahul Singh 1 year 3 weeks ago

Barmer fancy Logon ki madad karna chahie prakrutik aapda Ko roka To Nahin Ja Sakta Magar isase Samay Rahte bacha Jarur Ja sakta hai Bahar Ke Samay life jacket ka prayog Karen Agar Na Mile a to taiyar kiye Gaye tube ka istemal Karen badhane per Jal EJ Jivan Vishal ajibo se bacche badh ke Samay Sarkar Ke Niyam ka Palan karna chahie

106730

Yuvraj Mewada 1 year 3 weeks ago

बाढ़ एक प्राकृतिक आपदा है इससे बचाव करना बहुत आवश्यक है बाढ़ हमारे देश में बहुत तबाही मचाती है बाढ़ लाखों लोगों की जिंदगी तथा लाखों घरों को सभा कर देती है इससे बचाव बहुत आवश्यक है इससे निम्न बचाव किए जा सकते हैं नंबर 1 बाढ़ आने पर हमें बाढ़ रहित स्थाना जैसे ऊंचे स्थानों पर आवाज बनाना चाहिए नंबर दो बाढ़ आने पर हमें खाने की चीजें तथा पहनने के कपड़ों को बचाना चाहिए