You don't have javascript enabled. Please Enabled javascript for better performance.

महिला सुरक्षा और हम सब - चर्चा

महिलाओं की सुरक्षा के लिए दुनिया भर के बुद्धिजीवियों और सरकारों में ...

See details Hide details

महिलाओं की सुरक्षा के लिए दुनिया भर के बुद्धिजीवियों और सरकारों में चर्चा जारी है। मध्यप्रदेश शासन इस दिशा में गंभीर प्रयास कर रहा है। पुलिस प्रशासन अपने जमीनी अधिकारीयों की तैनाती और नवाचारों से इस विषय पर गंभीर प्रयास कर रहा है। मध्यप्रदेश पुलिस द्वारा किये जा रहे प्रमुख प्रयास निम्न हैं -

महिला डेस्क - हर थाने में एक महिला डेस्क जहाँ महिलाओं की शिकायत मिलते ही त्वरित कार्यवाही की जाती है।
महिला हेल्पलाइन - महिला हेल्प लाइन 1090 पर महिलाओं को निडर होकर कॉल करने की सुविधा
सोशल मीडिया - महिला अपराध शाखा के फेसबुक पेज, ट्विटर हेंडल और मैत्री एप में लोकेशन दर्शाने की सुविधा।
निर्भया पेट्रोलिंग - प्रदेश के सभी स्कूलों, कॉलेजों, हॉस्टल, पार्क, मार्केट क्षेत्र के पास महिला पुलिस की पेट्रोलिंग।
महिला थाना - प्रमुख शहरों भोपाल, इंदौर, ग्वालियर, उज्जैन, सतना, सागर, जबलपुर, रीवा, रतलाम और कटनी में महिला थाना।
सेल्फ डिफेंस ट्रैनिंग - इस प्रशिक्षण के अंतर्गत स्कूल-कॉलेज में छात्राओं को आत्मरक्षा का प्रशिक्षण प्रदान किया जाता है ।
जनसंवाद शिविर - महिला सुरक्षा के विभिन्न मुद्दों पर जागरूकता और जानकारी देने के साथ समस्या समाधान के लिए स्कूल-कॉलेजों में शिविरों का आयोजन।
फास्ट ट्रेक कोर्ट - महिलाओं पर अपराधों की त्वरित सुनवाई के लिए सभी 51 जिलों में फास्ट ट्रेक कोर्ट।
परिवार परामर्श केंद्र - घरेलू हिंसा और पारिवारिक विघटन रोकने के लिए प्रदेश में परामर्श केंद्रों की स्थापना।
MPeCop मोबाइल एप - मुसीबत के समय इस एप से 5 परिजनों एवं डायल 100 को SMS पहुंच जायेगा
मैत्री एप - विशेषकर महिलाओं की सुरक्षा के लिए; मुसीबत के समय इस एप से 5 परिजनों एवं डायल 1090 को कॉल पहुँच जायेगा।

महिलाओं की सुरक्षा के लिए जहाँ एक ओर पुलिस और प्रशासन की सतर्कता आवश्यक है वहीँ दूसरी ओर घर, परिवार, मोहल्ला, शहर और पूरे समाज को भी उतना ही जिम्मेदार और संवेदनशील होने की आवश्यकता है. आपके विचार और सुझाव प्रदेश में महिलाओं की सुरक्षा के लिए विमर्श को और प्रभावी बनाने में योगदान देंगे. प्रशासन द्वारा दी जा रही सुविधाओं और प्रयासों पर आप अपने महत्वपूर्ण सुझाव/विचार देकर इस विमर्श में भागीदार बनें.

All Comments
Reset
58 Record(s) Found

Aman Dhoot 1 day 19 hours ago

Mahilao ki suraksha badane ke liya government ko ek kanun parit karna chaiye
Jisme mahilao ka sexual harassment karne vale ka gender badal diya jai ga

Is dar se kafi lagam lag jai gi manchalo gunde pe

Ghanshyam shukla 1 day 22 hours ago

सरकार महिलाओं के लिए जो कार्य कर रही है वह बेहतर है लेकिन मेरे हिसाब से एक और भी कार्य होने चाहिए कि महिलाओं को पर्दा प्रथा तथा कुछ अंय कार्य हो जिससे कि यह जो बलात्कार इसमें सभी को सामान रखकर जांच की जानी चाहिए

anshu anand 2 days 3 hours ago

महिलाओं की सुरक्षा के लिए सरकारी तंत्र पूरी तरह से संवेदनशील है शासन ने महिलाओं को खुद सुरक्षित रखने के लिए ब्लेक बेल्ट. सेल्फडिफेन्स आदि का प्रशिक्षण दिलाया जा रहा है। इसके इतर रेल्वे स्टेशन. बस स्टैंड पर city कैमरा लगवाने चाहिए। डॉ. आनंद कंद गुप्त राजघाट कालोनी दतिया।

CHANDRA KISHOR GOSWAMI 2 days 16 hours ago

mahilao ko unki suraksha sambandhi aur unhe har tarah ki kaanooni aur vyavharik jaankari dene hetu muft news channel launch karna chaahiye jisme ki visheshagyo dwara har kshetra ki jaankaari dii jaani chahiye. aur saath me anya sabhi bahri karyo jaise ki job ya buisness ke saath ek achchhi grahini banne ke bhi tips diye jaayen. taaki unhe gharelu hinsa ka shikaar na hona pade

Anil Patel 5 days 15 hours ago

PM ,CM सर माननीय श्री शिवराज सिंह चौहान C.M म.प्र द्वारा मासिक कार्यक्रम Dil-Say दिल से जो की आकाशवाणी मे 14-01-2018 में प्रसारित हुआ है | उक्त सुझाव को C.M साहब द्वारा सेनेटरी पैड(नेपकीन) से सम्बंधित प्रसारित किया गया है आपको हमारे सुझाव सेनेटरी पैड(नेपकीन)से टैक्स हटाने को महिलाओ, बहनों के हित में पूरे देश मे लागू करना चाहीये सामाजिक सोच जो महिलाओ, बहनों के लिए मददगार होगी |ANIL B.S PATEL 9893555703 WWW.HINDISLOGANS.COM

uttam yadav 1 week 2 days ago

hello,
sr mera film production h parth film creation hoshangabad m
sr mere passs beti bachayo pr ek film h jo mene bnaya hu usme beti, desh , CM yojna or bhi bahut kujh h jo mene us film m dikhaya hu sr m usko All India relise krna chahta hu by GOVT. my contect no 7898745600

priyanka rawat 1 week 2 days ago

sir girls ke liy apni suraksha khud hi krni hoti h uske liy unhe karante wagera sikhanaa shi h .. lekin problem etni hi nhi hai ..
sir mujhe lagta hai ki har ghar mai and har school mai chotee se hi boys ko study ke sath sath girls ki respect krnaaa etc sikhanaa chahiyee .....

bhavuk 1 week 3 days ago

Sir,
Me chahta hu ki apne M.P. me ab hr ek school me km se km 2 sal ka ladkiyo ke liye fighting physical training coarse hona chahiye iske bad hi 12th hona chahiye or isme first class pas girls ko seedhe hi state police service bharti kra sakte he..
is kadam se ye mukhya bat hogi :-
1. Pahla girls trained or aatmnirbhar banegi.
2. M.P. me ladies police strainth badegi. jisse har thano chowki me ladies staff jyada matra me rahega jo ek positive way dega mahilao ke suraksha ke .