You don't have javascript enabled. Please Enabled javascript for better performance.

मुख्यमंत्री कल्याणी सहायता योजना

सामाजिक न्याय एवं नि:शक्तजन कल्याण विभाग द्वारा प्रदेश में ...

See details Hide details

सामाजिक न्याय एवं नि:शक्तजन कल्याण विभाग द्वारा प्रदेश में सामाजिक सहायता, नि:शक्त कल्याण व महिला सशक्तिकरण के क्षेत्र में लगातार विभिन्न योजनाएँ एवं कार्यक्रम संचालित किये जा रहे हैं।

इसी क्रम में विभाग द्वारा विधवा (कल्याणी) महिलाओं के लिए मुख्यमंत्री कल्याणी सहायता योजना की शुरुआत की गयी है, जिसके अंतर्गत प्रदेश की सभी कल्याणी महिलाओं को आर्थिक सहायता प्रदान की जा रही है। इस योजना में प्रदेश की 18 से 79 वर्ष के आयु वर्ग के बीच की सभी कल्याणी को प्रति माह 300 रुपये की आर्थिक सहायता प्राप्त हो रही है। इसके अलावा विभाग द्वारा 79 वर्ष से अधिक आयु की वृद्ध-विधवाओं (कल्याणी) को हर महीने 500 रूपये की मासिक पेंशन राशि प्रदान की जा रही है। इसके साथ ही, अब सभी विधवाओं को ‘कल्याणी’ कहकर संबोधित किया जायेगा एवं उनके पुनर्विवाह के लिए प्रदेश सरकार द्वारा दो लाख रूपये की आर्थिक सहायता का लाभ भी मिलेगा।

नि:संदेह महिला सशक्तिकरण की दिशा में उठाया गया यह एक महत्वपूर्ण कदम है। सामाजिक न्याय एवं नि:शक्तजन कल्याण विभाग द्वारा चलाई जा रही इस योजना का मुख्य उद्देश्य प्रदेश की विधवा (कल्याणी) महिलाओं को पुनर्विवाह के लिए प्रोत्साहित करने के साथ ही उन्हें आर्थिक और सामाजिक लाभ प्रदान करना है।

‘कल्याणी सहायता योजना’ को और अधिक बेहतर व प्रभावी बनाने के लिए आपके सुझाव एवं विचार आमंत्रित हैं।

All Comments
Reset
12 Record(s) Found

CHANDRA KISHOR GOSWAMI 1 day 21 min ago

ग्रामीण और शहरी क्षेत्र का भेदभाव मिटाते हुए कम से कम 2000 रु की सहायता राशी दी जानी चाहिए 300 रु के लिए योजना नहीं चलानी चाहिए.

Ramakrishna Lakshmanan 1 day 16 hours ago

Also, i suggest that another scheme may be launched that will provide financial assistance to those widows who want to become self-employed or even start a self help group supporting other widows. A scheme that will provide financial support to those who want to start a business and be self-reliant. This scheme will help many young women who are unfortunately widowed at a very young age and it may also help many widows who are left with newborn babies or young children who need extra care.

Ramakrishna Lakshmanan 1 day 17 hours ago

My suggestion is that, in proportion to the present Cost of Living prevailing at present, monthly pension may be increased from 300 rs to 1000 rs for the age group of 18 to 79 years and for above 79 years of age from 500 rs to 2000 rs to facilitate Ease of Living. The above mentioned amount may still be inadequate considering the cost of living but, at least it will be of some help. The amount for re-marriage may also be increased to 2.5 lakhs if it is feasible.

Ajay chouhan 5 days 18 hours ago

प्रदेश के मामाजी से निवेदन है कि आपने अपनी विधवा बहनो को कल्याणी नाम दिया जो कि बहुत सार्थक कदम है किंतु नाम देने से उनका कल्याण नही होगा ।सरकार उनकी परिस्थिति, उनके बच्चों का भविष्य उनकी सामाजिक स्थिति सुधारने की जगह मात्र 300 रुपये महीना पेंशन देकर उनका अपमान कर रही है ये योजना एक मजाक है कल्याणियो के साथ
आप दूसरे भाजपा शासित राज्य देखिये 2000 रुपये महीना पेंशन दे रहे है कल्याणियो को ओर उनके बच्चों की पढ़ाई ,सामाजिक स्तर सुधारने के प्रयास कर रहे है । 300 रु.की जगह 2000 रु पेंशन दे

Abhishek 6 days 43 sec ago

विधवा बहने जो कि अपने दुख व हो रही पीढ़ा को खुद ही समझ सकती है उनकी सिर्फ इतनी सहायता करना है कि उनकी एक छोटी सी मदद करने से है जैसे उन्हें किसी लघु उधोग मैं शामिल करना व उन्हें दूसरी महिलाओ से थोड़ा ज़्यादा प्रोत्साहित करना तथा उन्हें कुछ सहायता राशि उनके किये गए कार्य के लिए प्रदान करना व उन्हें शिक्षित करना अपने लघु उधोगो को खुद की सुचारु रूप से चलाने के लिए मार्गदर्शन करने पर ही सरकार को अधिक ध्यान देना चाहिए 300 व 500 रुपए की सहायता से अच्छा यह है कि उन्हें उसके कार्य का सही मूल्य मिले

radheshyam vishwkarma 6 days 54 min ago

Sir vishayon ke liye darkar ko 2lakh rupey ki sahayata or unhe pensan bhi deni chahiye or yah pensan kam se kam 2000 rupey monthlhy honi chahiye

Ashish goriya 6 days 13 hours ago

सबसे पहले तो उन्हें चिन्हीत करना चाहिए और फिर उन की समस्या को सुन उन का समाधान करना चाहिए उनके बच्चों की पढ़ाई में उच्च शिक्षा में मदद करना व आर्थिक विकास के लिए मददगार साबित हो ऐसा इस योजना को बनाना चाहिए स्वरोजगार के लिए मददगार साबित हो व्यवसाय में मदद करना चाहिए कल्यानी नाम की तरह ही इस योजना को बनाना चाहिए ३०० रुपया देना ये तो मज़ाक है office में बनी योजना नहीं चाहिए योजना को तो जमीनी स्तर पर से आना चाहिए उनकी समस्या सुनने वाला कोई हो उनका समाधान होना चाहिए ३००रुपये वाली योजना तो मज़ाक है।

Ajay chouhan 6 days 16 hours ago

योजना अच्छी है किन्तु मध्यप्रदेश सरकार द्वारा मात्र 300 रुपये प्रति माह कल्याणी महिलाओ को दिए जा रहे है जो बहुत ही कम है अन्य भाजपा शासित राज्यो जैसे राजस्थान,छत्तीसगढ़ में 1000 से 1500 रुपए प्रति माह पेंशन दी जा रही है कृपया सरकार इस पर गंभीर रूप से विचार करे 300 रुपये महीना पेंशन वो भी 2018 में मध्यप्रदेश की विधवा महिलाओ का अपमान है कृपया इन विधवा महिलाओ को सम्मान देने की कृपा करें

BRAJBHAN SOLANKI 6 days 17 hours ago

मुख्यमंत्री जी की यह योजना बहुत अच्छी है। लेकिन शिक्षक की मुतयू होने पर अनुकम्पा नियुक्तियों मे वयापमँ परीक्षा पास होने की शर्त उपयुक्त नहीं है। इस पर बिचार होना चाहिये और इस शर्त को समाप्त करके लंबित पृकरणो मे बिधबा महिलाओं को शैक्षणिक आर्ह्रता के आधार पर अनुकम्पा नियुक्ति दिया जाना चाहिए।