You don't have javascript enabled. Please Enabled javascript for better performance.

वन विहार को पूर्ण रूप से प्रदूषण मुक्त व सुविधाओं को और बेहतर बनाने हेतु सुझाव दें

Start Date: 17-06-2020
End Date: 18-08-2020

वन विभाग, मध्यप्रदेश के अंतर्गत भोपाल में स्थित वन विहार सभी ...

See details Hide details

वन विभाग, मध्यप्रदेश के अंतर्गत भोपाल में स्थित वन विहार सभी नागरिकों से अपील करता है कि वो वन विहार को पूर्ण रूप से प्रदूषण मुक्त व वहाँ की सुविधाओं को और बेहतर बनाने के संबंध में अपने सुझाव mp.mygov.in पर साझा करें।

हम जानते हैं कि प्रकृति और मनुष्य के बीच बहुत गहरा संबंध है क्योंकि दोनों एक-दूसरे के पूरक हैं और यह जीवन रूपी धारा ही प्रकृति है। प्रकृति की इस महान जीवनीशक्ति का एक जीवंत उदहारण है वन विहार। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में बड़े तालाब के पास 445.21 हेक्टेयर इलाके को राष्ट्रीय उद्यान का दर्जा देकर वन विहार का नाम दिया गया है। यहाँ जंगली जानवरों को ऐसी स्थिति में रखा जाता है जो कुदरत के बहुत करीब है; क्योंकि वन विहार राष्ट्रीय उद्यान एवं जूलॉजिकल गार्डन के साथ-साथ एक रेस्क्यू सेंटर एवं कंजर्वेशन ब्रीडिंग सेंटर भी है। यहाँ शाकाहारी वन्यप्राणियों की संख्या 1200 के आस-पास है। साथ ही लगभग 211 पक्षियों की प्रजातियाँ भी हैं। वहीं यहाँ लगभग 35 विभिन्न प्रजाति की तितलियाँ भी पाई जाती हैं। यहाँ का रेस्क्यू सेंटर मध्य भारत का एक मात्र ऐसा रेस्क्यू सेंटर है जहां पर वन क्षेत्रों से घायल वन्यप्राणी तथा सर्कस और मदारियों से विमुक्त किये गए वन्यप्राणी रखे गए हैं; इनमें बाघ, तेंदुआ, भालू, जैकाल,जंगली भैंसा, घड़ियाल एवं हायना जैसे वन्यप्राणी शामिल हैं। वन विहार रॉयल बंगाल टाइगर हेतु को-आर्डिनेटिंग जू है इसके साथ ही यह एशियाटिक लायन एवं जिप्स वल्चर हेतु पार्टिसिपेटिंग जू भी है।

वन विहार का मुख्य उद्देश्य प्राकृतिक रूप में वन्यप्राणियों की सुरक्षा, उन्हें आश्रय देने के साथ ही उनके प्राकृतिक आवास को बचाये रखने हेतु जनसाधारण में जागरूकता का विकास करना है। यहाँ आने वाले पर्यटकों को बेहतर सुविधा मिले इसके लिए सभी बातों का विशेष ख्याल रखा जाता है। जैसे- पेयजल, कैफेटेरिया, टॉयलेट, बैठने की सुविधा, भ्रमण हेतु बैटरी चलित वाहन, जिप्सी, सफारी वाहन, साइकल की सुविधा। वहीं हमारी वजह से वन्यप्राणियों को किसी प्रकार की कोई हानि न हो इसके लिए पार्क के अंदर कुछ क्रियाकलापों को प्रतिबंधित भी किया गया है। जैसे-
• हार्न, रेडियो, कार स्टीरियो या अन्य ध्वनि यंत्रों को बजाना।
• पोलीथिन या अन्य जैव अपघटनीय पदार्थों का उपयोग एवं कचरा फैलाना।
• वन्यप्राणियों को चिढ़ाना, उन पत्थर फेंकना, बाहरी वस्तु खिलाना या छेड़ना।
• पार्क के अंदर नशे की स्थिति में प्रवेश करना, मधपान या धूम्रपान करना या आग जलाना।
• प्रतिबंधित क्षेत्र में प्रवेश करना।
• पेड़-पौधों से फूल, पत्ता, टहनी एवं फल तोड़ना।
• पौधों,वन्यप्राणियों,घौंसले,फेंसिंग,बाड़ा,साईन बोर्ड को क्षति पहुंचाना।
• पालतू पशुओं के साथ पार्क में प्रवेश।
• जल संरचना के अंदर स्नान करना, तैरना या मछली पकड़ना।
• वाहन में निर्धारित क्षमता से अधिक पर्यटकों का बैठना।

वन विहार प्रशासन के साथ-साथ एक जागरूक नागरिक के रूप में हमारी भी जिम्मेदारी है कि वन विहार को पूर्ण से प्रदूषण मुक्त व पर्यटकों के लिए उपलब्ध सुविधाओं को और बेहतर बनाने हेतु अपने बहुमूल्य सुझावों को साझा करें।

आप हमें बताएं कि-
1. वन विहार में उपलब्ध सुविधाओं में से आपको कौन सी सुविधा सबसे अच्छी लगती है?
2. सुविधाओं को और बेहतर बनाने हेतु किस तरह के उपाए किये जा सकते हैं?

आपके द्वारा प्राप्त महत्वपूर्ण सुझाव वन विहार भ्रमण के रोमांच में निश्चित ही सकारात्मक भूमिका निभा सकते हैं।

वन विहार राष्ट्रीय उद्यान में प्रवेश हेतु दिशा-निर्देश

All Comments
Reset
90 Record(s) Found
100

Ask Anythings 2 weeks 6 days ago

For keeping Van Vihar neat and clean Government should impose fine on the peoples who do not follow the guidelines issued.
Also peoples who pollutes the Van Vihar by leaving plastics and leaving unnecessary garbage to be monitored so that they can't pollute them.https://www.askanythings.com

550

Raghav Parashar 2 weeks 6 days ago

वन विहार के मेरे सुझव कुछ इस प्रकार है -

१. प्रदूषण मुक्त वाहनों का उपयोग करे|
२. पेड़ों की कटाई को रोका जाए |
३. हमारी राज्य सरकार इसके लिए कानून ब नियम बनाए|
४. जानवरों की हत्या को रोके|
६. प्रकृति से प्यार करे , उससे खिलवाड़ ना करे
अधिक से अधिक पेड़ लगाए |
३.

1470

Aditya Sharma 3 weeks 12 hours ago

My suggestions are
1. There should be a "green Corridor" throughout the state for the wildlife just like the state highways which connect district to district.
2. Use of e-rickshaw within the green corridor as a replacement for a gasoline engine vehicle.
3. A complete ban on plastic use within that area.
4. After every 1 km, there should be a canteen, and in every 3 km area, there should be a
water park.
5. Organize "Man-Animal" co-relation theme-based events every year.
park

21440

Arun kumar tiwari 3 weeks 1 day ago

"cycle ride"
इको फ्रेंडली साईकल राइड वन्य विहार की बहुत ही अच्छी सुविधा है। जिसमें इसका उपयोग करके अपने मनपसंद डेस्टिनेशन पर कम या ज्यादा देर तक रुक सकते है। यह पर्यावरण के साथ ही हेल्थ के अनुकूल है किसी प्रकार का शोर शराबा नही होता है जिससे किसी जानवर को परेशानी हो।इसकी कॉस्ट भी कम रहती है जिससे पर्यटकों को बहुत ही बड़ी सुविधा प्राप्त होतीहै। सुविधा बढ़ाने के लिए सघन वृक्षारोपण,और फ्लावर पार्क का निर्माण होना चाहिए।वन्यजीव पर्यावरण से कैसे जुड़े है इस पर भी कुछ आर्ट गैलरी होना चाहिए।अरुणकुमार mp)

15910

Rajeev Rathor 3 weeks 2 days ago

Firstly ban plastic
then ban petrol diesel vehicles in van vihar as well as 2 km area around the van vihar and promote electronic vehicles .
Plant trees like neem, banyan which gives oxygen 24 hours.
use electrostatic precipitators
Avoid paving the van vihar

3710

Ashish Nayak_5 3 weeks 2 days ago

महोदय सुझाव है कि वन विभाग को पूरे प्रदेश में पेड़ पौधों का रोपण में वृद्धि करना चाहिए। पार्कों, बगीचों का निर्माण होना चाहिए। जंगलों को चारों ओर से सुरक्षित किया जाना चाहिए। पेड़ पौधों को नुकसान पहुंचाने बालों पर जुर्माना लगाया जाना चाहिए।

Sumit Sharma 3 weeks 2 days ago

पेड़ जीवनदाता है जो हमें जीवन के लिए उपयोगी ऑक्सीजन प्रदान करते हैं।
पेड़ो से हमें ईंधन, छाया, फल फूल आदि मिलते हैं।
यदि पेड़ नहीं होंगे तो हम जीवित नहीं रह सकेंगे। https://joblolo.com/kamgar-setu-portal/
प्रदुषण को बढ़ने से रोकने के लिए पेड़ो को बचाना होगा।
पेड़ प्रकृति को सुंदरता प्रदान करते हैं और उनके बिना पृथ्वी विरान और बंजर सी है। https://joblolo.com/rojgar-setu-portal/

2420

Pramugdhya singh bhadouriya 3 weeks 3 days ago

Ban plastic under the area.
Should get paper bag at entry while getting entry ticket to dump the waste of their personal.
Mobile phone should be on silent. And one family can borrow only one phone.
Noise prohibition.

600

Avi Kumar 3 weeks 3 days ago

पेड़ों को काटना बंद करने या अधिक रोपण करने से प्रदूषण को कम किया जा सकता है।
और इसके साथ ही साथ जंगलो को सा सुथरा रखने के लिए शहरो में होने वाले कचरो को वहाँ नहीं फेका जाना चाहिए !
हमारा ब्लॉग पढ़े ! https://hindimeto.com/