You don't have javascript enabled. Please Enabled javascript for better performance.

स्मार्ट सिटी भोपाल में गैर-मोटर चालित परिवहन पर चर्चा

स्मार्ट-सिटी मिशन में नॉन-मोटराइज्ड ट्रांसपोर्ट की शुरुआत करने ...

See details Hide details

स्मार्ट-सिटी मिशन में नॉन-मोटराइज्ड ट्रांसपोर्ट की शुरुआत करने वाला भोपाल देश का पहला ऐसा शहर है, जहां स्मार्ट पब्लिक बाइक शेयरिंग योजना सबसे पहले लागू की गई। इस योजना की शुरूआत में शहर में 50 साइकिल स्टेशन और 500 स्मार्ट साइकिल उपलब्ध कराई गईं।

एप, स्मार्ट-कार्ड, ई-लॉगइन-पिन या मोबाइल फोन से भुगतान करके साइकिल किराये पर ली जा सकती हैं । कम किराये और सहज उपलब्‍धता के चलते शहर में साइकिलिंग को प्रोत्साहन भी मिल रहा है और साइकिलिंग से शहर और शहरवासियों को प्रदूषण मुक्त पर्यावरण,साथ-साथ स्वास्थ्य लाभ और स्वच्छ शहर मिल रहा है।

इस लेख को लिखने का मुख्य उद्देश्य स्मार्ट सिटी, स्मार्ट परिवहन और पर्यावरण से संबंधित सबसे चुनौतीपूर्ण मुद्दों पर चर्चा करने के लिए अधिक संख्या में आम मंच प्रदान करना है। स्मार्ट सिटी और उसके क्रियान्वयन के बारे में आपकी टिप्पणी/सुझाव प्रदान करें। आप इस विषय पर अपने विचार व्यक्त कर सकते हैं कि सरकार द्वारा सुचारु रुप से चल रही इस पॉलिसी के अंतर्गत योजनओं को ओर बेहतर कैसे किया जा सकता है।

निम्नलिखित बिन्दुओ पर आपके सुझाव आमंत्रित किये जाते हैं:-
१- शहर मै और किन-किन स्थानों पर साईकल स्टेशन बनाना उचित होगा?
२- शहर मै और किन-किन स्थलों पर साईकल ट्रैक होना चाहिए?
३- पब्लिक बाइक शेयरिंग को बढावा देने के लिए और क्या-क्या उपयुक्त कदम उठाये जा सकते हैं?

All Comments
Reset
49 Record(s) Found

Arpit 6 months 3 weeks ago

Pedestrian ke liye sidewalks banaye jaye, pedestrian first ke tahat zebra crossing or zebra crossing signals lagaye jaye jisse na ki smart roadways ho balki smart walkways ban sake.

Prabhakar Tripathi 7 months 1 week ago

प्रिय,मामा जी आपने ई- साईक्लिंग की सुरूआत करके एक ऐतिहासीक और प्रशंसनीय कार्य किया है हम शहरवासी आपका आभार व्यक्त करते हैं....

Sudha gupta 8 months 3 weeks ago

We are talking so big on cleanliness whereas we don’t even have proper water supply. Since the very beginning of festive season we have been facing acute shortage of water. How do you think we can discuss on big things like cleanliness where our most basic needs are not fulfilled.

Kaushlendra Tiwari 9 months 1 week ago

माननीय मुख्यमंत्री महोदय जी हम सब जानते हैं कि मोटर दो पहिया वाहन गाड़ी से निकलने वाला धुआं हमारे स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है लेकिन यह सब सुविधाओं के साधन है यदि इन चीजों को बंद किया जाए तो पब्लिक को बहुत परेशानी होगी यह बात जानते हुए भी हम कुछ नहीं कर सकते

Akshat Saxena 9 months 1 week ago

Most of the people can't use cycle during working hours due to time constraints, so the timing should match with their jogging time and the infrastructure like cycle track and stand should be at those places like Road towards Kaliyasot Dam and Kolar, Another places where BRTS Bus is not available like Shymala hills towards Museum. Last month's activity of 'Cyclegiri' was successful due to Sunday and Lake View Road which is a place of interest. Placing stand at VIP Road terminals is favourable.

Prabhat Kumar Gupta 9 months 2 weeks ago

साइकिल स्टैंड की नए भोपाल में जैसे पल्लवी नगर, दाना पानी रेस्तौरेंट के पास,औरा मॉल, गुलमोहर कॉलोनी, स्वर्णजयंती पार्क, शाहपुरा थाना, आकृति एकोसिटी में आवश्यकता है. यहाँ पर कॉलोनियों की बस स्टॉप से दूरी अधिक है एवं सुबह मोर्निंग वाक पर सैकड़ो नागरिक जाते हैं. अगर साइकिल स्टैंड बनता है तो हजारो लोगों को स्वस्थ्यलाभ मिलेगा |

Rajendra jatav 9 months 2 weeks ago

श्री माननीय
मुख्यमंत्री जी आपसे निवेदन है की सरकारी कर्मचारियों को लगभग 1 महीने में 10 दिन साइकिल से आना जाना चाहिए। और आप मध्यप्रदेश के सभी जिलो में कार्/बाइक लगभग 15 दिन हर महीने में बंद करने का आदेश दे । ताकि इससे प्रदुषण कम हो सके । 15 दिन साइकिल के हो जाए तो ईंधन भी बचेगा भविष्य के लिए।यही मेरा सुझाव है। धन्यवाद

DEVENDRA PAL SINGH DHAKED 9 months 2 weeks ago

Initially consider to fix a day in a week or in a month as Cycle Day No use of Vehicle This will create awareness. If Possible consider to ban political & other vehicle rallies using bikes etc.