You don't have javascript enabled. Please Enabled javascript for better performance.

स्मार्ट सिटी भोपाल में गैर-मोटर चालित परिवहन पर चर्चा

स्मार्ट-सिटी मिशन में नॉन-मोटराइज्ड ट्रांसपोर्ट की शुरुआत करने ...

See details Hide details

स्मार्ट-सिटी मिशन में नॉन-मोटराइज्ड ट्रांसपोर्ट की शुरुआत करने वाला भोपाल देश का पहला ऐसा शहर है, जहां स्मार्ट पब्लिक बाइक शेयरिंग योजना सबसे पहले लागू की गई। इस योजना की शुरूआत में शहर में 50 साइकिल स्टेशन और 500 स्मार्ट साइकिल उपलब्ध कराई गईं।

एप, स्मार्ट-कार्ड, ई-लॉगइन-पिन या मोबाइल फोन से भुगतान करके साइकिल किराये पर ली जा सकती हैं । कम किराये और सहज उपलब्‍धता के चलते शहर में साइकिलिंग को प्रोत्साहन भी मिल रहा है और साइकिलिंग से शहर और शहरवासियों को प्रदूषण मुक्त पर्यावरण,साथ-साथ स्वास्थ्य लाभ और स्वच्छ शहर मिल रहा है।

इस लेख को लिखने का मुख्य उद्देश्य स्मार्ट सिटी, स्मार्ट परिवहन और पर्यावरण से संबंधित सबसे चुनौतीपूर्ण मुद्दों पर चर्चा करने के लिए अधिक संख्या में आम मंच प्रदान करना है। स्मार्ट सिटी और उसके क्रियान्वयन के बारे में आपकी टिप्पणी/सुझाव प्रदान करें। आप इस विषय पर अपने विचार व्यक्त कर सकते हैं कि सरकार द्वारा सुचारु रुप से चल रही इस पॉलिसी के अंतर्गत योजनओं को ओर बेहतर कैसे किया जा सकता है।

निम्नलिखित बिन्दुओ पर आपके सुझाव आमंत्रित किये जाते हैं:-
१- शहर मै और किन-किन स्थानों पर साईकल स्टेशन बनाना उचित होगा?
२- शहर मै और किन-किन स्थलों पर साईकल ट्रैक होना चाहिए?
३- पब्लिक बाइक शेयरिंग को बढावा देने के लिए और क्या-क्या उपयुक्त कदम उठाये जा सकते हैं?

प्रस्तुत करने की आख़री तिथि 31 दिसंबर, 2017 है

All Comments
Reset
47 Record(s) Found

rahul patel 2 months 2 weeks ago

१)सभी सरकारी कर्मचारियों (केंद्र एवं राज्य) को जिनका कार्यालय 5km या कम दूरी पर है उनका साइकल से कार्यालय जाना अनिवार्य किया जाए।
इससे स्वास्थ्य लाभ, प्रदूषण कम, सड़कों पर जाम कम होगा एवं पैसों की बचत होगी।
२)जिनका ऑफ़िस दूर है, मेट्रो ट्रेन की सुविधा होने के बाद मेट्रो ट्रेन से जाना अनिवार्य किया जाए।
३)इसकी शुरुआत मंत्री गण स्वयं करें।
४) यह समूह ४ से लेकर १ तक के सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों के लिए लागू किया जाए।

bhagwati 2 months 2 weeks ago

sir aaj hm swachh bharat ki baat krte he uske liye anhiyan bhi chala rhe he but swachhta k sath sath hme jal k liye bhi sochana chahiye. jis prakar gndgi hta rhe h usi prakar hm sb y bhi jante he ki hmari prathvi p pani 70% he but pine ka pani bhut hi kam matra m he .muze lgta h sbse jyada aane wale time m pani k liye jal sanrchan p abhiyan chalana hoga.

pradip sharma 2 months 2 weeks ago

sir,in my way. internet connection is the main reason for develop a city.if intenet connection is free for evey person at a afordable cost by govt.than more people can access internet. and in every school digital board is commanly for best future of kids. and we should control pollution .if a act launched by govt. that in a perticular day odd no cars and bike go and another day even no. cars and bike.In this way accident is also less in our city
thank you

e-mail-pradipsharma1301@gmail.com

Golu vishwakarma 2 months 2 weeks ago

Sir,I think non-motorised suitable for short distance because nobody can't cycling 5km or 10km,so we use it in limited distance places like jk road-minal residency,jk road-anand nagar etc for 2 or 3 km distance.so every one is comfortable to use cycle.
Thanks

Aashish Pethe 2 months 2 weeks ago

भोपाल विकास प्राधिकरण द्वारा निर्मित आवासीय भवन महर्षि पंतजलि परिसर, गोदरमउ, गांधीनगर भोपाल में साईकिल स्टैसण्डि लगवाया जाना अतिआवश्यआक है, इस परिसर में स्टैमण्डम हेतु पर्याप्तक जगह उपलब्धि है। परिसर से मेन रोड आसाराम चौराहा तक कोई भी आवागमन का साधन उपलब्ध नही है, इस कारण यहा के रहवासी गण को अत्यसन्तम कठिनाई का सामना करना पडता है। ऑटो, बस इत्यादि साधन आसाराम चौराह पर ही उपलब्ध होते है। यह दूरी लगभग 3 किलोमीटर की है। आसाराम चौराहा, एयरपोर्टरोड, लालघाटी चौराहा पर भी साइकिल स्टैिण्ड अतिआवश्यक

Yogendra 2 months 2 weeks ago

#pubicbikesharing
एप्स से आधारकार्ड लिंक के जरिये कैस भुगतान को भी जोडे ताकि भोपाल मे रहने और घूमने आने वाले स्थाई और अस्थाई लोगो को भी मौका मिले |
मेम्बरशिप योजना की फीस कम की जाये, ट्रेक रास्ते के टूटे ब्लोक सही किये जाये |
साईकिल पर यूनिक नम्बर अंकित किये जाये, तथा साईकिल ले जाने वाले का नाम पता फोटो समय कर्मचारी द्वारा जोडा जाये और घंटे के हिसाब से घटते क्रम मे चार्ज लिया जाये |

स्थान=
जेपी अस्पताल, 10 न., 11 मील, त्रीलन्गा, साकेत नगर, अवधपुरी

satish mewada 2 months 3 weeks ago

सुविधाएं:वाईफाई जोन,टोटल डिजिटल ट्रांजेक्शन आउटलेट,मोबाइल जिम,खेत मार्केट जहा से ताजी सब्जियां तोड़कर खरीदी जा सके,सड़क के दोनों और वृक्ष,सड़क के बीच में वाटर फॉल,पेट्रोल पम्प मशीन पर ही कार्ड स्क्रेच कर पेट्रोल लेने की सुविधा I अतिआवश्यक कार्य:वर्षा के पानी का संयोजन,वृक्षारोपण,ड्रेनज वाटर सिस्टम,प्राकृतिक चीजों का उपयोग:खाने की थाली नारियल की छाल से निर्मित,नो पॉलीथिन ज़ोन I उपयुक्त स्थान:साऊथ टी टी नगर,यहाँ काफी खुली जगह है और सरकारी जगह है I न्यूमार्केट,मातामंदिर,आराधना नगर,श्यामला हिल्स