You don't have javascript enabled. Please Enabled javascript for better performance.

AtmaNirbhar Madhya Pradesh

Start Date: 01-11-2021
End Date: 31-12-2021

मुख्यमंत्रीजी के सपने को पूरा करने दीजिए अपने सुझाव

...

See details Hide details
AtmaNirbhar Madhya Pradesh


मुख्यमंत्रीजी के सपने को पूरा करने दीजिए अपने सुझाव


------------------------------------------------------------

मध्यप्रदेश के 66वें स्थापना दिवस पर मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान प्रदेश के सभी नागरिकों से प्रदेश को आत्मनिर्भर बनाने में सहभागी बनने का आग्रह कर रहे हैं।
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान का सपना मध्यप्रदेश को एक आत्मनिर्भर राज्य बनाना है। एक ऐसा राज्य जहां कोई पीछे न रहे और विकास के लिए सबको अवसरों की समानता हो। वे समझते हैं कि ‘आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश’, प्रदेश के लोगों के लिए क्या मायने रखता है।

मुख्यमंत्रीजी के इस सपने को कैसे मूर्त रूप दिया जा सकता है, इस संबंध में नागरिक अपने बहुमूल्य सुझाव mp.mygov.in पर साझा करें।

All Comments
Reset
207 Record(s) Found
6890

Richa Singotiya Chauhan 2 weeks 4 days ago

आदरणीय मुख्यमंत्री जी
हमारे मध्य प्रदेश में पिछले 4 सालों से रोजगार भर्तियाँ नही निकली हैं।राज्य के युवा परेशान हैं ,किसी तरह राज्य की सेवा करना चाहते हैं।क्या चुनाव के समय भर्तियाँ निकली जाएंगी?राज्य सरकार की ऐसी बेरुखी कई युवाओं का भविष्य खराब करती है।युवाओं का मनोबल गिरता है।राज्य को आत्मनिर्भर बनाने के लिए सबसे पहले हर युवा को आत्मनिर्भर बनाना होगा,रोजगार के अवसर खोलिये सरकार,जागिये,कई लटकी पड़ी हुई भर्तियां निकाली जाए ताकि जो मेहनत कर रहे हैं खुद को नौकरी करते हुए देखने का सपना संजोए हुए।

220

Chaitanya Rathore 2 weeks 4 days ago

Madhya Pradesh is state of green land , and talking about it’s self reliance has made it efficient in terms for basic requirements of an normal individual’s survival. During the pandemic the state did face problems but also it made to this extent. MP has increased rates of employment after pandemic (according to my personal experience). In terms of natural resources the state is incomparable. The amount of energy possessed during farming by the farmers is strong.

640

AnurudhDubey 2 weeks 5 days ago

अगर हम लोग अगर आज के समय में हम लोगों को हमारे देश हमारे प्रदेश को आत्मनिर्भर बनाना है तो हमें छोटे रोजगार जैसे लोकल फॉर वोकल जैसे अपनाना पड़ेगा हम प्लास्टिक को त्याग कर कुल्लड़ व्यापारियों से जो मिट्टी के सामान बनाते हैं उनकी सामान को तवज्जो दें तो उनकी कमाई भी बढ़ेगी साथ ही प्लास्टिक जैसी प्रदूषण कारी समस्या से निदान मिलेगा अगर हम छोटे रोजगार जैसे बेकार फूलों से अगरबत्ती बनाना तथा गीतों पर बन रही ऑर्गेनिक खाद जो गोबर के द्वारा निर्मित होती है गोबर गैस आदि जैसी चीजों को बढ़ावा दें।

640

Vivek singh 2 weeks 6 days ago

मेरा मानना सरकार को प्रदेश सभी स्कूलों में business की शिक्षा लॉन्च करने चाइये जिसमे 10th, 11th, 12th के बच्चे हिस्सा बने वो स्कूल निकलते निकलते आत्म निर्भर साथ ही प्रदेश अपने परिवार का नाम रोशन कर जिससे कि बच्चे पढ़ाई कोई रुकावट पैदा न हो इसके लिए पूरा पीडीएफ प्लान है हमारे पास ।।
मैं दे सकता हूँ साथ ही इसे प्रदेस कैसे करना उसकी जानकारी भी है ।

धन्यवाद विवेक सिंह
7747807886 founder and CEO seg creature LlP

4180

gaurav sethi_2 3 weeks 1 day ago

amazon pe jo Indian sellers hey unke product aur seller ko amazon etc block na kar paye ..aur unka margin bhi control karein .,yaha ke sellers ke sab items uk ,usa aur pure world mein visible aur buyable ho....bhale hi sirf india wali site pe sale ki liye listed ho..,rto charges etc seller se na liya jaye ..open delivery ka option ho phir sahi item hone pe buyer return na kar sakein ,ebay india ko phir se laye ..taki amazon ki monopoly na ho,sabhi e-commerce companies pickup hotey hi payment dev

9280

ABID MIYAN 3 weeks 1 day ago

मध्यप्रदेश की आत्मनिर्भरता तीन बातों पर अवलम्बित है-
** किसानों की फसलों का समुचित दाम दिलाना
** युवाओं को रोजगार के समुचित अवसर मुहैय्या कराना
** जल और खनिजों के समुचित संरक्षण का प्रयास करना

420

JyotiMishra 3 weeks 1 day ago

सपना पूरा करने के लिए योग्य क्रमचारी, शिक्षित क्रमचारी वा अनुभवी कार्यकर्ताओं की जरूरत है।

1840

ARIMONDAL 3 weeks 2 days ago

माननीय मुख्यमंत्री जी,आप का सपना जरूर पूरा होगा.सबसे पहले जबतक बीच के अधिकारी ईमानदार न हो सभी अधिकारी कर्मचारी नेता अपने राज्य के नाम स्वेच्छा से 1 रुपया भी दान करता है तो काफी राशि जमा होगी और राज्य तरक्की करेगा. सभी शिक्षित लोगों को आगे आना होगा.अनेक योजनाएँ हैं जो राज्य मे ही सब को रोजगार मिले राज्य का पैसा राज्य में रहे.नागरिक को जागरूक होने की जरूरत है.आप को नहीं. http://dlsamalda.org/ मैंतो हर महीने अपने राज्य के नाम 100 रूपये देने को तैयार हू। राज्य अकेले राजा का नही हम भी ऊसके निवासी है

1840

ARIMONDAL 3 weeks 2 days ago

नियम का पालन करवाया जाएं तो सभी नियम सर्वोत्तम है। सरकारी अधिकारी या नेता प्रजा के सेवक है,स्वामी नहीं। राजकीय नेता को मिलने वाली सुविधाओं देश पर सबसे बड़ा बोझ है । सेवा करने के लिए लाखों का सुरक्षा खर्च हमारे देश में योग्य नहीं । तथा ऐसे सेवक से लाभ भी क्या जो जनता का पैसा स्वयं के भोगविलास में खर्च करे । अधिकारी सुविधा के लिए है , काम के लिए है अपना कर्तव्य सही तरीके से करे तो अन्य सेवा की आवश्यकता ही क्या!जो है वह संभल जाए तब नए नियम या योजना का विचार करें http://dlsamalda.org/