You don't have javascript enabled. Please Enabled javascript for better performance.

Golden Hour

Start Date: 05-02-2021
End Date: 31-03-2021

'गोल्डन ऑवर'- घायल के लिए संजीवनी - इस कैंपेन हेतु सुझाव आमंत्रित ...

See details Hide details


'गोल्डन ऑवर'- घायल के लिए संजीवनी - इस कैंपेन हेतु सुझाव आमंत्रित है।

जीवन कीमती है और इसका मूल्य तब पता चलता है, जब किसी सड़क दुर्घटना में घायल व्यक्ति मदद की गुहार लगा रहा होता है। ऐसे में हमारे आस-पास कुछ ऐसे नेक व्यक्ति होते हैं जो मदद के लिए अपना हाथ आगे करते हैं और घायल को अस्पताल ले जाते हैं। पुलिस अब इन नेक व्यक्तियों से कोई पूछताछ नहीं करेगी ।

अतः अब केंद्रीय सरकार, मोटर यान (संशोधन) अधिनियम, 2019 की धारा 134क के अनुसार जो नेक व्यक्ति है उन पर नियम 168 लागू होगा। जिसमे निहित है कि नेक व्यक्ति के साथ किसी भी प्रकार का भेदभाव किये बिना सम्मानपूर्वक व्यवहार किया जाएगा।

पुलिस ट्रेनिंग रिसर्च इंस्टीट्यूट (PTRI), पुलिस मुख्यालय, भोपाल द्वारा इस नेक काम में जन-भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए 'गोल्डन ऑवर'- घायल के लिए संजीवनी कैंपेन शुरू किया गया है। इस कैंपेन का उद्देश्य सड़क दुर्घटनाओं की रोकथाम और दुर्घटना में घायलों की मदद के लिए नागरिकों को प्रेरित करना है।

सड़क सुरक्षा के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले व्यक्तियों / सामजिक संगठन / ट्रस्ट एवं सेमेरिटन द्वारा किए गए सराहनीय कार्य को सम्मानित करते हुए केंद्र सरकार का सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय द्वारा केंद्र एवं राज्य स्तर पर अलग-अलग श्रेणियों में पुरुस्कृत किया जाएगा।

विस्तृत जानकारी मंत्रालय की वेबसाइट https://morth.nic.in/ पर उपलब्ध है।
मोटर यान (संशोधन) अधिनियम, 2019

'गोल्डन ऑवर'- घायल के लिए संजीवनी कैंपेन को बेहतर बनाने के लिए और नेक व्यक्तियों की साझेदारी बढ़ाने के लिए अपने सुझाव यहां comment box में साझा कर सकते हैं।

All Comments
Reset
108 Record(s) Found
91010

Jane Alam 16 hours 24 min ago

SOST CASES ACCIDENT TAKE PLACE IN HIGHWAY LKE PLACES WHICH ARE OUTSIDE OF CITY SO INJURED PERSONS NEED IMMEDIATE BASIC TREATMENT LIKE STOOPING BLEEDING BUT DUE TO LAKE OF KNOWLEDGE WE DON'T KNOW ABOUT BASIC TRATMENT SO WE SHOULD EDUCATE EVERY PERSON TO KNOW WHAT WE SHOULD DO IN CASE OF INJURY AND IN SCHOOLS COURSE OF BASIC MEDICAL TREATMENT SHOULD BE MENDATOERY FOR ALL STUDENTS SO IN CASE OF INJURY IF FAMILY PERSON ARE WITH INJURED THEY CAN AID HIM/HER.

1700

amitkumaryadav 1 day 21 hours ago

THE FIRST FORE MOST THING IS TO BE A TRUE HUMAN TO SAVE LIFE DURING ANY INCIDENCE.
b. PERSON SHOULD BE WELL TRAINED A MOCK TRAING SHOULD BE GIVEN AT SCHOOL LEVEL TO HIGHER LEVEL BY GOVT

100

AdarshBahadurSingh 2 days 8 hours ago

All the accident suffering peoples should be helped and taken
To the hospital without any fear of police or case.
Never argue person who is helping the needy always support him/her.

200

aanya jain 2 days 19 hours ago

SOST CASES ACCIDENT TAKE PLACE IN HIGHWAY LKE PLACES WHICH ARE OUTSIDE OF CITY SO INJURED PERSONS NEED IMMEDIATE BASIC TREATMENT LIKE STOOPING BLEEDING BUT DUE TO LAKE OF KNOWLEDGE WE DON'T KNOW ABOUT BASIC TRATMENT SO WE SHOULD EDUCATE EVERY PERSON TO KNOW WHAT WE SHOULD DO IN CASE OF INJURY AND IN SCHOOLS COURSE OF BASIC MEDICAL TREATMENT SHOULD BE MENDATOERY FOR ALL STUDENTS SO IN CASE OF INJURY IF FAMILY PERSON ARE WITH INJURED THEY CAN AID HIM/HER.

100

Manorama Rathore 2 days 20 hours ago

There should be a better treatments for person who are injered .we should help them without hesitating . unnecessary without hesitation we should help them .by this we can take care of our society and community

100

JaishreeGoswami 2 days 22 hours ago

Ghayal ki help karne wale ko bewajah pareshan na kiya hjaye uske agree hone par hi nam news paper at social media me bataya jaye
Help ke badle use shabashi deni chahiye na ki tark karke use unnecessary pareshan kiya jaye