You don't have javascript enabled. Please Enabled javascript for better performance.

बाढ़ के समय बचाव कार्य में नागरिक किस तरह से सहयोग कर सकते हैं

Start Date: 17-08-2020
End Date: 07-09-2020
आप हमें बताएं कि- 1. बाढ़ जैसी प्राकृतिक आपदाओं के समय किस तरह के सुरक्षात्मक उपाय किये जाने चाहिए? 2. बाढ़ के समय बचाव कार्य में नागरिक किस तरह से सहयोग कर सकते हैं?
All Comments
Discussions on This Talk
Comments closed for this talk.
Reset
18 Record(s) Found
3766770

Bhawna 10 months 1 day ago

ऐसा भी निर्देश है कि जो लोग बाढ़ राहत शिविरों या ऊपर की दोनों व्यवस्थाओं के लाभ नहीं ले पा रहे हैं उनके लिये सूखा राशन की जगह फूड पैकेट में भोजन सामग्री प्रत्येक परिवार को दी जायेगी। एक फूड पैकेट में 5 किलो चावल, 1 किलो दाल, 2 किलो आलू और नमक हल्दी का छोटा पैकेट होगा। जिला पदाधिकारी के देख-रेख में पैकिंग होगी और जरूरत के हिसाब से एनडीआरएफ व एसडीआरएफ के माध्यम से वितरित की जाएगी।

3766770

Bhawna 10 months 1 day ago

सामुदायिक रसोई का संचालन

आपदा विभाग के प्रधान सचिव ने पत्रांक 2359 दिनांक 14.08.2017 द्वारा बाढ़ प्रभावित जिलों के जिला पदाधिकारियों को भेजे निर्देश में कहा है कि जो लोग बाढ़ में फँसे हैं और प्रशासन की कोशिशों के बावजूद निकल नहीं रहे हैं वहाँ उच्च स्थान पर सामुदायिक रसोई चालू किया जाय जहाँ सभी को दोनों समय भोजन तैयार कर खिलाया जाएगा। यदि वहाँ ऐसी स्थिति है कि लोग घर की छतों पर बैठे हैं फिर भी निकल नहीं रहे हैं ऐसे में उन लोगों को नाव से लाकर दोनों समय भोजन दिन में ही कराया जाय और नाव से उन्हें

3766770

Bhawna 10 months 1 day ago

बिहार में इस वर्ष बाढ़ विकराल रूप में है। सरकार द्वारा इसके बचाव व राहत के कार्य किये जा रहे हैं। सरकार द्वारा राहत, बचाव, सहाय्य अनुदान वितरण इत्यादि कार्यों के लिये मानक तय किया गया है। साथ ही मानक संचालन प्रक्रिया एस.ओ.पी. भी बनाई है जिसके तहत बाढ़ पूर्व तैयारियाँ, बाढ़ के दौरान कार्य व बाढ़ के बाद के कार्य संचालित होने हैं। बाढ़ पीड़ितों व प्रभावित लोगों की जनजागरूकता के लिये प्रमुख जानकारियाँ दी जा रही है। आपदा विभाग ने राज्य में नियंत्रण कक्ष के नं. जारी किया है पटना में (SEOC) टोल फ्री 10

3766770

Bhawna 10 months 1 day ago

टीआई चंद्रकांत पटेल ने बताया कि बचाव कार्य के लिए जरूरत की सामग्री के लिए जनसहयोग एवं प्रशासनिक स्तर पर उपलब्ध कराने की बात कही गई। उन्होंने कहा कि प्राइवेट संस्था द्वारा बचाव राहत कार्य मे सहयोग प्रदान करते समय किसी भी सदस्य के साथ यदि किसी भी प्रकार की दुर्घटना घटित होती है तो शासन द्वारा उनको सुविधाएं मुहैया कराई जाएगीं। जिसके लिए समिति के सदस्यों का बायोडाटा एकत्रित किया जा रहा है। बैठक में एएसआई शत्रुघन दुबे, होमगार्ड एनसीओ अरूण मिश्रा, समिति अध्यक्ष बब्लू राय सहित अन्य सदस्य मौजूद थे।

3766770

Bhawna 10 months 1 day ago

बारिश के मौसम में प्राकृतिक आपदाओं में बाढ़ पर नियंत्रण रखने एवं उस दौरान बचाव व राहत कार्य के संबंध में थाना में बाढ़ आपदा प्रबंधन की बैठक हुई। जिसमें एसडीओपी कमल जैन एवं टीआई चंद्रकांत पटेल ने उपस्थित बांके बिहारीजी सरकार सेवा समिति एवं होमगार्ड सैनिकों के दल को बाढ़ राहत के बचाव कार्य के बारे में विस्तृत जानकारी दी गई। इसके लिए वैकल्पिक व्यवस्था के लिए बांके बिहारी सरकार समिति द्वारा बाढ़ राहत कार्य में सहयोग करने के लिए अपने सदस्यों को बैठक में शामिल कर प्रशिक्षण की जानकारी दी।

420

RAKESH KUMAR RAJAK 10 months 1 week ago

समय-समय पर गांव में नालियों का साफ सफाई करना चाहिए जिससे पानी इकट्ठा होने का संभावना न बने इतनी आसानी से बाहर निकल जा सके और गांव के लोगों को हमेशा सतर्कता बरतनी चाहिए कि अगर बाढ़ की स्थिति बने तो घर के बाहर ही रहे और ऐसी स्थिति में उनको व्यवस्था करनी चाहिए कि वह अपनी जान की रक्षा कर सकते हैं

160840

tripti gurudev 10 months 1 week ago

शहर,कस्वों एवं गांव की नालियों की वर्षा पूर्व सफाई एवं चौड़ीकरण करना‌ चाहिए।

970

Ankit pastorji 10 months 1 week ago

Honorable Sir, I suggest that there should be drainage on the roadside in the cities as well as drainage pipes within a certain distance (50–100) meters from the ground in these drains, which can be found in a big drain.

  •