You don't have javascript enabled. Please Enabled javascript for better performance.

महात्मा गाँधी की 150वीं जयंती के अवसर पर निबंध लेखन प्रतियोगिता

Start Date: 19-09-2019
End Date: 21-10-2019

राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी की 150वीं जयंती के अवसर पर राज्य लोक सेवा ...

See details Hide details
Closed

राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी की 150वीं जयंती के अवसर पर राज्य लोक सेवा अभिकरण (MP-SAPS) द्वारा गांधी जी के जीवन, उनके विचारों और उनके द्वारा किये गए कार्यों से प्रेरणा लेकर “लोकतंत्र और महात्मा गांधी” के विषय पर निबंध लेखन प्रतियोगिता का आयोजन MP MyGov पोर्टल पर किया गया है।
इस ऑनलाइन प्रतियोगिता में नागरिक हिस्सा ले सकते हैं। यह प्रतियोगिता 20 अक्टूबर 2019 तक ऑनलाइन https://mp.mygov.in/ पोर्टल पर संचालित की गई है।

प्रतियोगिता और उसके विषय से संबंधित जानकारी:-

1. विषय - लोकतंत्र और महात्मा गाँधी।
2. निबंध लेखन प्रतियोगिता में प्राप्त पांच सर्वश्रेष्ठ प्रविष्टियों को प्रमाण-पत्र से सम्मानित किया जायेगा।

उक्त प्रतियोगिता में चयनित विजेता प्रतिभागियों को प्रमाण-पत्र प्रदान किये जायेंगे। प्रतियोगिता में सर्वश्रेष्ठ प्रविष्टि एवं विजेताओं का चयन राज्य लोक सेवा अभिकरण द्वारा गठित समिति द्वारा किया जायेगा। निर्णायक समिति का निर्णय ही अंतिम एवं बाध्यकारी होगा।

प्रतियोगिता के नियम एवं शर्तें:-

1. प्रविष्टियाँ सबमिट करते समय सबसे पहले मुख्य विषय का नाम, अपना आलेख , प्रतिभागी का नाम, जिले का नाम, पता, ई-मेल एड्रेस और फोन नंबर अनिवार्य रूप से प्रस्तुत करें।
2. किसी भी प्रतिभागी द्वारा भेजी गयी एक से अधिक प्रविष्टियाँ स्वीकार्य नहीं की जाएंगी।
3. इस प्रतियोगिता से जुड़े सभी प्रतिभागियों को mp.mygov.in पोर्टल पर रजिस्टर्ड होना अनिवार्य है।
4. किसी और माध्यम से भेजी गयी प्रविष्टियाँ मान्य नहीं की जाएंगी।
5. सभी नागरिक इस प्रतियोगिता में भाग ले सकते हैं।
6. सभी प्रविष्टियां सिर्फ ऑनलाइन ही स्वीकार की जाएंगी।
7. निबंध लेखन (हिंदी या अंग्रेजी) की शब्द सीमा : अधिकतम 300 शब्द है।
8. विषय के चयन में संगतता न होने पर प्रविष्टि निरस्त की जाएगी।
9. प्रविष्टियों का चयन विशेषज्ञ पैनल द्वारा किया जायेगा।
10. प्रविष्टि में कोई उत्तेजक / आपत्तिजनक शब्द नहीं होने चाहिए।
11. सभी चयनित प्रविष्टि के सर्वाधिकार / कॉपीराइट MP MyGov, राज्य लोक सेवा अभिकरण (SAPS) मध्यप्रदेश के होंगे एवं इसमें किसी भी प्रकार के बदलाव का अधिकार सुरक्षित होगा।
12. प्रतियोगिता में भाग लेने वाले सभी प्रतिभागी यह सुनिश्चित करें कि :-
a) उन्होंने प्रवेश की सभी शर्तों का अनुपालन किया है।
b) उनकी प्रविष्टियां मूल हैं।
c) उनकी प्रविष्टियां किसी भी तीसरे पक्ष की बौद्धिक सम्पदा अधिकारों का उल्लंघन नहीं करती है।

All Comments
Total Submissions ( 69) Approved Submissions (65) Submissions Under Review (4) Submission Closed.
Reset
65 Record(s) Found
4270

Rakesh jain 4 months 1 week ago

बापू की यही विशेषता उन्हें महात्मा बनाती है कि वह दूसरे को बदलने के लिए प्रेरित करने से पहले स्वयं को उस सांचे में ढलते हुए देखते थे। हमे भी उनके इस नियम को अपने जीवन में लागू करना चाहिए।जय हिंद जय भारत

10100

Amit Parihar 4 months 1 week ago

Democracy and Mahatma Gandhi ji
Amit Parihar, Jodhpur Rajasthan.
powerzone10@gmail.com
Today we are living in world best democratic country India.In India many religion people's are living with happily and without any tension.each person having same laws and regulations for living.this all given by Sh Mahatma Gandhi ji .behind the democratic India thought is given by bapu.he look so simple but his thought was remarkable.he follow the honesty,ahinsa,live together,no casteism, simple,jai hind .

34490

Hindusree Tallapally 4 months 1 week ago

India follows the democratic type of Government. India is a big country and hence needs to be governed in a proper and an effective way.

34490

Hindusree Tallapally 4 months 1 week ago

Democracy is a form of Government which is very popular and also considered as one the most effective forms. In this form of Government, the majority of decisions are taken by the representatives that are chosen by the
people. India follows the democratic type of Government.
India follows the democratic type of Government. India is a big country and hence needs to be governed in a proper and an effective way.

121420

V K TYAGI 4 months 1 week ago

महात्मा गांधी जी की 150 वी जयंती के अवसर पर हमें महात्मा गांधी की शिक्षा से प्रेरणा लेनी चाहिए इस जयंती को मनाने का हमे तभी लाभ होगा जब हम उनकी शिक्षाओं से प्रेरणा ले उन्हेंअपनी प्रतिदिन की दिनचर्या में लागू करे हम आज की पीढ़ी को भी महात्मा गांधी की शिक्षा से परिचित कराएं क्योंकि नई पीढ़ी को आज इस प्रकार की शिक्षा अच्छी नहीं लगती है वह तो स्मार्ट फोन व सोशल साइट में ही उलझ कर रह गई है उसे तो इन शिक्षाओं की और पढ़ने व उनसे सीखने का समय नहीं है अत 150 जयंती के उपलक्ष्य में हमें ऐसे प्रोग्राम चाहिए

103170

Amit Devendra Ojha 4 months 1 week ago

महात्मा गांधी को ब्रिटिश शासन के खिलाफ भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन का नेता और 'राष्ट्रपिता' माना जाता है। इनका पूरा नाम मोहनदास करमचंद गांधी था। महात्मा गांधी का जन्म 2 अक्टूबर 1869 को गुजरात के पोरबंदर नामक स्थान पर हुआ था। इनके पिता का नाम करमचंद गांधी था। मोहनदास की माता का नाम पुतलीबाई था जो करमचंद गांधी जी की चौथी पत्नी थीं। मोहनदास अपने पिता की चौथी पत्नी की अंतिम संतान थे।

570

ANKUSH KUMAR SURYAWANSHI 4 months 1 week ago

मुख्य विषय का नाम :लोकतंत्र और महात्मा गांधी
अपना आलेख : निबंध
प्रतिभागी का नाम:अंकुश कुमार सूर्यवंशी
जिले का नाम : छिंदवाड़ा
पता:नई आबादी नवदीप स्कूल के पास वाड नम्बर02 अमरवाड़ा
ई-मेल : ankushsuryawanshi93@gmail.com
मोबाइल नंबर:9770206814