You don't have javascript enabled. Please Enabled javascript for better performance.

‘अनुभूति कार्यक्रम’ लोगो डिज़ाइन प्रतियोगिता

Start Date: 19-09-2019
End Date: 22-10-2019

प्रकृति हमें जीवित रहने के लिए सबकुछ देती है। इस प्रकार, जब प्रकृति ...

See details Hide details
Closed

प्रकृति हमें जीवित रहने के लिए सबकुछ देती है। इस प्रकार, जब प्रकृति हमें सबकुछ देती है तो उसका संरक्षण भी हमारी ही जिम्मेदारी है। स्कूली बच्चों में प्रकृति के प्रति जिम्मेदारी और अपनेपन की इसी भावना को विकसित करने के लिए, मध्यप्रदेश वन विभाग द्वारा ईको टूरिज्म डेवलपमेंट बोर्ड (MPEDB) के माध्यम से प्रशिक्षण व जागरुकता के लिए ‘अनुभूति कार्यक्रम’ का आयोजन किया जाता रहा है। कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य वन,वन्यप्राणी व पर्यावरण की रक्षा और संरक्षण की अनिवार्यता के बारे में युवा मन को समझाना है।

अनुभूति कार्यक्रम के रूप में, मध्य प्रदेश के सभी वन परिक्षेत्रों में MPEDB द्वारा 15 दिसंबर से 15 जनवरी के बीच एक दिवसीय शिविर का आयोजन किया जाता है। इन शिविरों के माध्यम से छात्रों को प्रकृति व पर्यावरण का अनुभव प्रदान किया जाता है, ताकि छात्र इसके महत्व के बारे में जागरूक हो सकें। कार्यक्रम की गतिविधियों में पर्यावरण संरक्षण, जैव विविधता, बर्ड वॉचिंग, वन प्रबंधन, आदि शामिल हैं। अनुभवी और प्रशिक्षित मास्टर ट्रेनर द्वारा छात्रों को प्रकृति की सैर, ट्रेक, प्रकृति की पाठशाला एवं विभिन्न गतिविधियों के माध्यम से पर्यावरण की अनुभूति करायी जाती है। परिणामस्वरूप पिछले तीन वर्षों में 2 लाख से अधिक छात्र इस कार्यक्रम में भाग ले चुके हैं।

प्रकृति से संबंधित गतिविधियों के अलावा, छात्रों को शारीरिक और मानसिक रूप से मजबूत बनाने के लिए साहसिक गतिविधियाँ भी आयोजित की जाती है। 2018 के अनुभूति कार्यक्रम में दिव्यांग बच्चे भी शामिल थे; जिन्हें स्पर्श, ध्वनि, ब्रेल आदि के माध्यम से प्रकृति की सुंदरता का अनुभव कराया गया था।
ईको टूरिज्म डेवलपमेंट बोर्ड (MPEDB) अनुभूति कार्यक्रम 2019-2020 के लिए पूरी तरह से तैयार है। इसी क्रम में, MPEDB अनुभूति कार्यक्रम के लिए एक लोगो-डिज़ाइन प्रतियोगिता आयोजित कर रहा है, जो इस कार्यक्रम को एक नई पहचान दे सके। प्रतिभागी अपनी प्रविष्टि को www.mp.mygov.in पर 21अक्टूबर, 2019 शाम 5 बजे तक ऑनलाइन अपलोड कर सकते हैं या फिर Terms and condition में दिये गये MPEDB के पते पर भेज सकते हैं।

चयनित प्रविष्टि को ईको टूरिज्म डेवलपमेंट बोर्ड (MPEDB) द्वारा 20,000/- रूपये की पुरस्कार राशि और प्रमाण-पत्र से सम्मानित किया जाएगा।

प्रतियोगिता से सम्बंधित सभी नियम व शर्तें जानने के लिए यहाँ क्लिक करें

All Comments
Total Submissions ( 86) Approved Submissions (76) Submissions Under Review (10) Submission Closed.
Reset
76 Record(s) Found
3890

Shirish Dubey_1 11 months 2 weeks ago

मेरा लोगो प्रकृति एवं वन्य जीव व मानव के आपसी प्रेम को दर्शाता है

File: 
590

Selvakumar 11 months 2 weeks ago

Respected sir
I drawn this nature scenario since it is about forest.Two mountain looks like M and river connected road looks like P,idea behind is Madhya Pradesh.. since its about students participation,two camps are there..it may encourage students to come out and protect, preserve the environment
It looks in a simple manner with lots of message..
Thanks sir..

2750

Kunal rewatkar 11 months 2 weeks ago

Human is totally dependent on nature ,Human existence is totally impossible without the existence of environment hence it is the basic responsibility of human to preserve it there is a pharase that 'we have got this earth planet on lease from our future generations and not as an ancestral property from our ansistor it means we have got earth from on lease of future generations not from ancestral

Kunal rewatkar
Class X
Dinanath high school Nagpur
Mobile -967382050 kunalrewatkar30@gmail.com

File: 
6610

Ameet Putta 11 months 2 weeks ago

Designed logo gives a complete visual representation of all the information given by MPEDB. For the annual event 'Anubhuti' The design became very eye-catchy, to the brife and simple to understand for kids and their parents.

File: 
1120

Vimal kumar sahu 11 months 2 weeks ago

This logo connects the environment and childhood together. The importance of environment in the life of students can be realized through this logo. I tried to make the logo simple so that the students and people can easily realize the importance of the environment and living beings.

Font- google font kalam(regular)

Name - vimal kumar sahu
Address - raghunathpura, rashmi, chittorgarh, rajasthan
E-mail - vimalsahu5588@gmail.com