You don't have javascript enabled. Please Enabled javascript for better performance.

Suggestions to start a new Academic Session

Start Date: 02-06-2021
End Date: 19-06-2021

कोविड-19 संक्रमण के दृष्टिगत नवीन शिक्षण सत्र प्रारंभ करने के ...

See details Hide details


कोविड-19 संक्रमण के दृष्टिगत नवीन शिक्षण सत्र प्रारंभ करने के संबंध में सुझाव

कोविड-19 संक्रमण और कोरोना कर्फ्यू के चलते हमने अपने जीवन में बहुत सारे बदलाव देखे हैं। इन परिवर्तनों ने हमारी आवश्यकताओं को नये सिरे से चिन्हित और परिभाषित भी किया है। इनमें प्रमुख रूप से शिक्षा भी है, वर्तमान समय की यथास्थिति को ध्यान में रखते हुए प्रदेश सरकार स्कूल शिक्षा को विद्यार्थियों के अनुकूल बनाने हेतु निरंतर प्रयास कर रही है, इस दिशा में निरंतर नवाचार भी किये जा रहे हैं।

इन्हीं बातों को ध्यान में रखते हुए कोविड-19 संक्रमण के दृष्टिगत नवीन शिक्षण सत्र प्रारंभ करने के संबंध में संस्था प्रमुख / प्राचार्य / शिक्षकों / पालकों / विद्यार्थियों / आम नागरिकों के सुझाव आमंत्रित हैं।

विभिन्न कक्षाओं के विद्यार्थियों के लिए भौतिक रूप से कक्षाएं / सत्र प्रारम्भ करने के बारे में आपके क्या सुझाव हैं?
✍ प्ले स्कूल एवं प्राथमिक वर्ग / माध्यमिक वर्ग (कक्षा 1 से 8) के संबंध में,
✍ उच्च माध्यमिक वर्ग (कक्षा 9 से 12) के संबंध में,
✍ ऑनलाइन / ऑफलाइन शिक्षण पद्धति के संबंध में.

नवीन शिक्षण सत्र प्रारंभ करने के संबंध में अपने बहुमूल्य, उपयोगी और व्यावहारिक सुझाव नीचे कमेंट बॉक्स में साझा करें। निश्चित ही आपके सुझावों से नवीन शिक्षण सत्र की रूपरेखा निर्धारित करने में सहायता मिलेगी।

All Comments
Reset
596 Record(s) Found
4950

Madhubala goyal 3 months 4 days ago

कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर में बच्चों के प्रभावित होने का अंदेशा बताया गया है जिसे देखते hue board कक्षाएं 10वीं और 12वीं के अतिरिक्त सभी स्कूल कॉलेज कोचिंग संस्थान एवं समस्त शिक्षण संस्थाएं tisri लहर तक बंद रखने की जरूरत है ऑनलाइन कक्षाओं का संचालन ही एकमात्र विकल्प है तीसरी लहर तक बच्चों को घर में ही रखना सुरक्षित होगा इसीलिए इस बात का विशेष ध्यान रखा जाए कि सभी शिक्षण संस्थाएं बंद रहे एवं खोले जाने पर दंडात्मक कार्रवाई की जाए धन्यवाद जय हिंद

520

virendra Kumar Yadav 3 months 4 days ago

मध्यप्रदेश में उच्च शिक्षा विभाग से अनुरोध है कि स्कूल में दाखिला प्रक्रिया शुरू करें और पढ़ाई भी सुरू करें

3060

Sourabhjain 3 months 4 days ago

एक छात्र के रूप में मैं सोच रहा हूं कि मेरा भविष्य कुछ अशिक्षित राजनेता द्वारा तय किया जा रहा है जो अपने राजनीतिक लाभ के लिए मेरे जीवन और भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं। वे स्कूल, कॉलेज और कोचिंग संस्थान को फिर से खोलने पर राजनीति कर रहे हैं। कृपया स्कूल और कॉलेज फिर से खोलें मेरा भविष्य खराब न करें मेरे माता-पिता मेरे स्वास्थ्य की देखभाल करने के लिए हैं। स्कूल फिर से खोलें कक्षा 1 से लेकर 12वीं तक

4130

Sauravkumar 3 months 4 days ago

As a student i am thinking my future is being decided by some uneducated politican who is playing with my life and future for his political benefit . They are politicisng reopening of school , colleges and coaching institution . Please reopen school and colleges do not spoil my future my parents are there to take care of my health . Reopen schools

3060

Sourabhjain 3 months 5 days ago

अभी लोग पर लेकर सरकारी नहीं तो प्राइवेट जॉब करके अपना तथा अपने परिवार का भरण पोषण कर लेते हैं लेकिन अगर शिक्षा ही बंद रही तो उन्हें नौकरी कैसे मिलेगी और देश में भुखमरी अपनी चरम सीमा पर होगी तथा देश के बदतर हालत होने से बचाएं और शिक्षा के मंदिर स्कूलों को पुनः सुचारु रुप से खोले जाएं तथा शिक्षा के मंदिर के संचालकों को सत्तू आदेश देकर उन्हें स्कूल खोलने का परमिशन दी जाए तथा उनसे कोरोना का लाइन का पालन भी अवश्य कराया जाए और 1 जुलाई से स्कूल खोले जाएं

3060

Sourabhjain 3 months 5 days ago

प्रदेश के मंदिर मस्जिद जब आप खोल सकते हैं जिसमें बच्चे बूढ़े बुजुर्ग सभी जा सकते हैं बस ट्रेन खुल सकती है बाजार खोल सकते हैं तो फिर स्कूलों को क्यों बंद रखा जाए वह भी तो एक अति आवश्यक सेवा है जो कि बच्चों का भविष्य बनाती है तथा ऐसी अत्यावश्यक चीज को बंद रखने का कोई औचित्य नहीं है अगर साइड में आएगी तो जिस तरह आपने स्कूल बंद अभी किए हैं उसी प्रकार फिर बंद करवा सकते हो लेकिन अभी स्कूल को ले जाएं मेरा सो जाओ यह है

3060

Sourabhjain 3 months 5 days ago

इसलिए मेरा हाथ जोड़कर देश के प्रधानमंत्री प्रदेश के मुख्यमंत्री तथा शिक्षा मंत्री से अनुरोध है कि इस पर गंभीर विचार करके शिक्षा के मंदिर स्कूल को अवश्य खोलें क्योंकि शिक्षा का मंदिर ही अगर बंद रहा तो सच्चा कहां से मिलेगी और बच्चों का भविष्य अंधकार में हो जाएगा जिसका पूरा कामयाना प्रदेश की सरकार को भुगतना पड़ेगा

3060

Sourabhjain 3 months 5 days ago

छोटे बच्चों में ही शुरू से ही शिक्षा का ज्ञान अति आवश्यक है क्योंकि ऑनलाइन में नहीं मिलता है वह ज्ञान केवल स्कूल परिसर में ही शिक्षक के सामने बच्चों को मिलता है अगर सरकार चुनाव करा सकती है मेरा जल तथा सभाएं करा सकती है तो फिर स्कूल खोलने में इन्हें क्या परेशानी है तथा 2022 में पांच राज्यों के चुनाव की तैयारी सरकार अभी से कर रही है और आने वाले समय में चुनाव होंगे भीड़ होगी स्कूल क्यों नहीं खुल सकती जबकि स्कूलों में सोशल डिस्टेंसिंग अपना ही जा सकती है तथा एक दिन छोड़ छोड़ कर क्लास के बच्चों को बुल